HomeEntertainmentअरबी घोड़े, पर्शियन बिल्ली, 15 हीरे के झुमके; ठग सुकेश ने जैकलीन...

अरबी घोड़े, पर्शियन बिल्ली, 15 हीरे के झुमके; ठग सुकेश ने जैकलीन को दिए थे 5.4 करोड़ के तोहफे

 

 

अभिनेत्री जैकलीन फर्नांडिस की मुश्किलें तब बढ़नी शुरू हुईं जब उनकी तस्वीरें 200 करोड़ रुपये के मनी लॉन्ड्रिंग मामले के आरोपी ठग सुकेश चंद्रशेखर के साथ वायरल हुईं।

रिलेशनशिप को लेकर पिछले कुछ समय में गोल्ड डिगर और शुगर डैडी जैसे शब्दों का खूब इस्तेमाल हुआ। अभिनेत्री जैकलीन फर्नांडिस की तस्वीरें जब सुकेश चंद्रशेखर के साथ वायरल हुईं तो यूजर्स ने इन दो शब्दों का धड़ल्ले से इस्तेमाल किया। हालांकि यह दोनों शब्द नए नहीं हैं लेकिन फिर से चर्चा में होने की वजह से तमाम लोगों के लिए यह नया है। ऐसा कहा जाता है कि जब कोई महिला प्यार की बजाए किसी की संपत्ति के लिए रिश्ते में आती है तो उसे गोल्ड डिगर कहते हैं।

वहीं शुगर डैडी टर्म भी काफी पुराना है। इसमें डैडी जैसा कुछ नहीं है और यह उस रिश्ते के लिए इस्तेमाल किया जाता है, जब एक कम उम्र की लड़की किसी बेहद रईस और उम्रदराज शख्स के साथ रिश्ते में आ जाती है। यह भी कहा जाता है कि यह रिश्ता औपचारिक नहीं होता केवल एक दूसरे की जरूरतों पर आधारित होता है। एक समय चीन में बकायदा सरकार की ओर से स्कूली छात्राओं को यह चेतावनी जारी की गई थी कि वह रईस लोगों के बहकावे में ना आएं।

दरअसल, श्रीलंकाई मूल की बॉलीवुड अभिनेत्री जैकलीन फर्नांडिस की मुश्किलें तब बढ़नी शुरू हुईं जब उनकी तस्वीरें 200 करोड़ रुपये के मनी लॉन्ड्रिंग मामले के आरोपी ठग सुकेश चंद्रशेखर के साथ वायरल हुईं। 2017 से जेल में बंद सुकेश पिछले साल जमानत पर था। इसी दौरान ली गई तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल हुई जिसके बाद जैकलीन पर ईडी ने शिकंजा कस दिया।

ईडी की पूछताछ में जैकलीन ने पिछले साल अक्टूबर में बताया था कि सुकेश ने तोहफे में 52 लाख रुपये का अरबी घोड़ा और तीन पर्शियन बिल्ली दी थीं। एक बिल्ली की कीमत करीब नौ लाख रुपये है। इसके अलावा हीरे के पंद्रह झुमके भी दिए थे। अभिनेत्री ने ईडी को पूछताछ में बताया था कि सुकेश ने तोहफे में हीरे से जड़े कान के पंद्रह झुमके, कई रंगों के बेशकीमती पत्थर से जड़े ब्रेसलेट और दो हरमीस कंपनी के ब्रेसलेट मिले थे।बैग, जिम वियर, महंगे जूते और रोलेक्स की घड़ी भी दी थी।

सुकेश ने 5.71 करोड़ के तोहफे दिए
प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने इसी साल 30 अप्रैल को बयान जारी कर बताया था कि ठग सुकेश ने आपराधिक गतिविधियों या वसूली से कमाए पैसे से जैकलीन को 5.71 करोड़ रुपये के तोहफे दिए। सुकेश ने जैकलीन तक तोहफे पहुंचाने के लिए अपनी सहयोगी पिंकी ईरानी का इस्तेमाल किया था।

ईडी ने जब्त की करोड़ों की संपत्ति: सुकेश के साथ तस्वीरें वायरल होने के बाद ईडी ने जांच का दायरा बढ़ाया। धनशोधन मामले की जांच को आगे बढ़ाते हुए ईडी ने जैकलीन की 7.27 करोड़ रुपये की संपत्ति और 15 लाख रुपये कैश जब्त किया था।

परिवार के सदस्यों को भी करोड़ो दिए: ईडी के अनुसार सुकेश ने अभिनेत्री के परिवार को भी 1.44 करोड़ रुपये की रकम भी दी। थी। परिवार तक इस पैसे को पहुंचाने के लिए सुकेश ने अंतरराष्ट्रीय हवाला कारोबारी अवतार सिंह कोचर की मदद ली थी।

स्क्रिप्ट राइटर को 15 लाख पहुंचाए: ईडी ने प्रारंभिक जांच के आधार पर ये भी खुलासा किया था कि सुकेश ने जैकलीन की तरफ से एक स्क्रिप्ट राइटर को 15 लाख रुपये दिए थे। ये पैसा जैकलीन के लिए एक वेब स्टोरी लिखने के एवज में दिया गया था। ये रकम भी ईडी ने अटैच की थी।

मिनी कूपर कार भी मिली: सुकेश ने जैकलीन को मिनी कूपर कार भी तोहफे में दी थी। हालांकि बाद में वह कार अभिनेत्री ने सुकेश को लौटा दी। भारत में इस कार की कीमत 40 लाख से लेकर 50 लाख रुपये तक है। सुकेश मामले में ईडी द्वारा फाइल की गई चार्जशीट में ईडी ने बताया था कि सुकेश ने जैकलीन की मां और बहन को भी बीएमडब्ल्यू कार दी थी।

जैकलीन के संपर्क में था सुकेश: ईडी ने इस साल अप्रैल में कहा था कि सुकेश चंद्रशेखर पिछले साल फरवरी से लेकर अगस्त तक नियमित जैकलीन के संपर्क में था। दिल्ली पुलिस ने पिछले वर्ष सात अगस्त को सुकेश को गिरफ्तार किया था। ईडी ने इस मामले में चंद्रशेखर उसकी पत्नी लीना मारिया पॉल, पिंकी ईरानी समेत नौ लोगों को गिरफ्तार किया है।

लुकाउट सर्कुलर भी जारी हुआ: जैकलीन के खिलाफ ईडी ने पांच दिसंबर 2021 को लुकआउट सर्कुलर जारी किया था। इसके बाद मुंबई से मस्कट जा रहीं जैकलीन को पूछताछ के लिए दिल्ली लाया गया था। इससे पहले जैकलीन ईडी के समन पर कई बार पूछताछ के लिए नहीं पहुंची थीं।

17 साल की उम्र से ठगी की दुनिया में उतरा सुकेश: ठग सुकेश चंद्रशेखर कर्नाटक के बेंगलुरु का रहने वाला है। कहा जाता है कि 17 साल की उम्र से ही उसने ठगी शुरू कर दी थी। ठगी की शुरुआत उसने नौकरी दिलाने के नाम पर की। सुकेश पर 100 से ज्यादा लोगों से नौकरी के नाम पर 75 करोड़ से अधिक की रकम का ठगी का आरोप है।

साल 2017 में वह चर्चा में तब आया जब उसे चुनाव आयोग रिश्वत मामले में तमिलनाडु से गिरफ्तार किया गया। सुकेश पर आरोप था कि दो पत्तियों वाले चुनाव चिन्ह के मामले में अफसरों को रिश्वत देने के लिए एआईएडीएमके नेता टीटीवी दिनाकरण से पैसे लिए थे। पुलिस के अनुसार एआईएडीएमके नेताओं से सुकेशन ने 50 करोड़ की डील की थी। गिरफ्तारी के वक्त उसके पास से पुलिस ने 1.3 करोड़ रुपये बरामद किए थे। चंद्रशेखर पर फोर्टिस हेल्थकेयर के पूर्व प्रवर्तक शिविंदर मोहन सिंह की पत्नी अदिति सिंह समेत कुछ अन्य लोगों से भी धोखाधड़ी करने के आरोप हैं।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular