HomeBiharVIDEO: जेडीयू का आरजेडी में विलय का दावा करने वाले RCP सिंह...

VIDEO: जेडीयू का आरजेडी में विलय का दावा करने वाले RCP सिंह को लेकर बोले सीएम नीतीश, अरे छोड़िए…

आरसीपी सिंह ने दावा करते हुए कहा कि जदयू का राजद में विलय हो जाएगा। उनके इस बयान के बाद सीएम नीतीश कुमार से पत्रकारों ने जब सवाल किया तो उन्होंने कहा कि छोड़िए उसका हम नोटिस नहीं लेते हैं।

 

पूर्व केंद्रीय मंत्री आरसीपी सिंह की ताजा टिप्पणी से जदयू की उनके प्रति नाराजगी और बढ़ गई है। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष ललन सिंह ने अपनी प्रतिक्रिया में तल्ख तेवर दिखाए। आरसीपी सिंह ने छपरा में मीडिया के एक सवाल पर कहा कि जदयू का राजद में विलय हो जाएगा। उनके इस बयान के बाद मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से पत्रकारों ने जब सवाल किया तो उन्होंने कहा कि छोड़िए उसका हम नोटिस नहीं लेते हैं। उसका जवाब ललन सिंह देंगे। वहीं, जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष ललन सिंह ने कहा कि आरसीपी सिंह भाजपा के एजेंट थे। वह जदयू को कमजोर बनाने में लगे हुए थे।

आरसीपी ने मुख्यमंत्री की पीठ में छूरा घोंपा : ललन सिंह

ललन सिंह ने कहा कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के स्टाफ थे आरसीपी सिंह। मुख्यमंत्री ने उन्हें बोलने लायक बनाया। पर, वही आरसीपी सिंह ने मुख्यमंत्री की पीठ में छूरा घोंपा। आरसीपी जदयू का ए से जेड तक कुछ नहीं जानते। 2020 के चुनाव में जदयू को नुकसान पहुंचाने का उन्होंने षड्यंत्र किया था। यही कारण था कि जदयू को 43 सीटें ही मिलीं। ललन सिंह गुरुवार को दिल्ली में पत्रकारों से बात कर रहे थे। कहा कि आरसीपी जदयू का अस्तित्व समाप्त करना चाहते थे, पर उन्हीं का अस्तित्व समाप्त हो जाएगा। जदयू को फिर 100 से अधिक सीटों तक पहुंचाएंगे।

जदयू का राजद में विलय हो जाएगा : आरसीपी

आरसीपी सिंह ने पत्रकारों से बातचीत में जोर देकर कहा कि जदयू का राजद में विलय होगा ही। यह भी कहा कि बिहार की जनता देख रही है कि कौन क्या बोल रहा है। मीडिया के सवाल पर कहा कि जनता तय करेगी कि हमें आगे क्या करना है। बिहार में जो सत्ता परिवर्तन हुआ है उसका अंदेशा उत्तर प्रदेश चुनाव के बाद ही लगाया जा रहा था। वे इस निर्णय का शुरू से विरोध कर रहा थे। बिहार की जनता ने एनडीए को वर्ष 2025 तक सरकार चलाने का बहुमत दिया था, लेकिन बीच में दल बदल लेने से जदयू की सेहत प्रभावित हुई है।

पूर्व केंद्रीय मंत्री ने कहा कि केंद्रीय मंत्रिमंडल में शामिल होने के सवाल पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार गलत बोल रहे हैं कि मैंने अपने मन से मंत्री पद की शपथ ली थी। सवाल किया कि अगर लालू यादव इतने अच्छे ही थे तो 1994 और फिर 2017 में उनसे नीतीश कुमार अलग क्यों हुए? यह भी जनता जानना चाह रही है। आरसीपी सिंह हाजीपुर, सोनपुर, छपरा, गोपालगंज जिले के विभिन्न क्षेत्रों में गये और कार्यकर्ताओं से मिले।

 

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular