HomeBiharमॉल की जमीन पर अवैध कब्जे के आरोप से सुशील मोदी भड़के,...

मॉल की जमीन पर अवैध कब्जे के आरोप से सुशील मोदी भड़के, नीतीश के मंत्री रामानंद यादव को भेजा लीगल नोटिस

 

बिहार के पूर्व डिप्टी सीएम सुशील मोदी ने मंत्री रामानंद यादव को लीगल नोटिस भेजा है। सुशील मोदी ने उनके द्वारा लगाए गए पटना में खेतान मार्केट और मॉल की जमीन पर अवैध कब्जे के आरोपों पर सबूत मांगे हैं।

 

बिहार की राजनीति एक बार फिर गर्मा गई है। पूर्व डिप्टी सीएम और बीजेपी से राज्यसभा सांसद सुशील कुमार मोदी ने नीतीश कुमार की महागठबंधन सरकार में मंत्री रामानंद यादव को लीगल नोटिस भेजा है। खान एवं भूतत्व मंत्री रामानंद यादव ने सुशील मोदी पर पटना में जमीन पर जबरदस्ती कब्जा कर खेतान मार्केट और लोदीपुर मॉल बनाने के आरोप लगाए। अब सुशील मोदी ने मंत्री रामानंद से इसके सबूत मांगे हैं। साथ ही दस्तावेज न दिखाने पर उनसे सार्वजनिक माफी मांगने के लिए कहा गया है। साथ ही सुशील मोदी ने रामानंद यादव को मानहानि का मुकदमा करने की भी चेतावनी दी है।

 

सुशील मोदी ने अपने वकील रत्नेश कुशवाहा के जरिए खान एवं भूतत्व मंत्री रामानंद यादव को कानूनी नोटिस स्पीड पोस्ट के माध्यम से भेजा है। इसमें कानूनी नोटिस में कहा गया है कि रामानंद यादव ने यह आरोप लगाया है कि डिप्टी सीएम रहते हुए दबंगई करते हुए क्रिश्चियन समुदाय की जमीन पर कब्जा कर खेतान मार्केट और लोदीपुर मॉल का निर्माण करा लिया, जबकि ये कोर्ट से मुकदमा हार चुके थे। सुशील मोदी ने रामानंद यादव से इससे जुड़े दस्तावेज एक हफ्ते के भीतर सार्वजनिक करने की मांग की है। अगर दस्तावेज नहीं है तो वे सार्वजनिक रूप से माफी मांगें, नहीं तो उनके खिलाफ कोर्ट में मानहानि का मुकदमा दर्ज किया जाएगा।

 

सुशील मोदी के वकील रत्नेश कुशवाहा ने आगे कहा कि खेतान मार्केट एवं लोदीपुर के मॉल की जमीन एवं उसके निर्माण से सुशील मोदी का दूर-दूर तक कोई संबंध नहीं है। उन्होंने नोटिस में लिखा कि इस समाचार को सभी प्रमुख समाचार पत्रों, वीडियो चैनल पर प्रमुखता से चलाया गया। इस कारण सुशील मोदी की छवि खराब हुई है। अगर रामानंद यादव एक हफ्ते के भीतर दस्तावेज सार्वजनिक नहीं करते हैं या माफी नहीं मांगते हैं, तो उनके खिलाफ केस दर्ज कराया जाएगा।

 

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular