HomeNationalईंधन रिसाव के साथ रॉकेट में आई दरार, खतरे के बाद नासा...

ईंधन रिसाव के साथ रॉकेट में आई दरार, खतरे के बाद नासा ने रोका ‘मून रॉकेट’

 

 

फ्लोरिडा केनेडी अंतरिक्ष केंद्र के पास आंधी-तूफान के कारण ईंधन भरने की प्रक्रिया करीब एक घंटे देरी से चल रही है। रिसाव उसी जगह दिखाई दिया जहां पहले भी ड्रेस रिहर्सल के दौरान सीपेज दिखाई दिया था।

 

नासा ने अपने नए ‘मून रॉकेट’ के प्रक्षेपण की अंतिम तैयारियों के दौरान ईंधन के रिसाव तथा संभावित दरार का पता चलने के बाद इसे रोक दिया। इस ऐतिहासिक रॉकेट को सोमवार को लॉन्च होना था। हालांकि निर्धारित प्रक्षेपण में देरी का खतरा पैदा हो गया जिसके बाद इसे रोक दिया गया। नासा ने स्पेस लांच सिस्टम रॉकेट में करीब 10 लाख गैलन हाइड्रोजन और ऑक्सीजन भरने की प्रक्रिया को रिसाव के कारण बार-बार रोका और शुरू किया।

 

फ्लोरिडा केनेडी अंतरिक्ष केंद्र के पास आंधी-तूफान के कारण ईंधन भरने की प्रक्रिया करीब एक घंटे देरी से चल रही है। रिसाव उसी जगह दिखाई दिया जहां पहले भी ड्रेस रिहर्सल के दौरान सीपेज दिखाई दिया था। नासा के अधिकारियों ने कहा कि बाद में एक महत्वपूर्ण हिस्से में दरार या कुछ अन्य खामी दिखाई दी। इंजीनियरों ने इसका अध्ययन शुरू कर दिया है।

कार्यक्रम के अनुसार रॉकेट को चंद्रमा की कक्षा में चालक दल के साथ एक कैप्सूल स्थापित करने के मिशन पर उड़ान भरनी है। यह प्रक्षेपण 50 साल पहले अपोलो कार्यक्रम के समाप्त होने के बाद से पहली बार चंद्रमा की सतह पर अंतरिक्ष यात्रियों को उतारने के अमेरिका के प्रयास में एक महत्वपूर्ण मील का पत्थर माना जा रहा है।

 

नासा के सहायक प्रक्षेपण निदेशक जेरेमी ग्रेबर ने कहा कि पहले रिसाव से शुरू हुई जद्दोजहद के बाद अब अंतरिक्ष एजेंसी को तय करना होगा कि सोमवार सुबह प्रक्षेपण करना है या नहीं। उन्होंने कहा, ‘‘हमें इस स्तर पर पहुंचने के लिए बहुत काम करना होगा।’’ अगर सोमवार सुबह प्रक्षेपण नहीं हो सका तो अगला प्रयास शुक्रवार से पहले नहीं किया जा सकेगा।

 

 

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular