HomeBusinessअब तो भारत आना पड़ेगा, जेल का खाना खाना पड़ेगा... भगोड़े नीरव...

अब तो भारत आना पड़ेगा, जेल का खाना खाना पड़ेगा… भगोड़े नीरव मोदी की अर्जी UK में खारिज

 

 

भारत से हजारों करोड़ रुपये का लोन लेकर भागे हीरा कारोबारी नीरव मोदी के प्रत्यर्पण का रास्ता साफ हो गया है। युनाइटेड किंगडम के सुप्रीम कोर्ट ने प्रत्यर्पण के खिलाफ नीरव मोदी की याचिका को खारिज कर दिया।

 

भारत से हजारों करोड़ रुपये का लोन लेकर भागे हीरा कारोबारी नीरव मोदी के प्रत्यर्पण का रास्ता साफ हो गया है। युनाइटेड किंगडम के सुप्रीम कोर्ट ने प्रत्यर्पण के खिलाफ नीरव मोदी की याचिका को खारिज कर दिया है। नीरव मोदी के पास प्रत्यर्पण को टालने का यह आखिरी विकल्प था। फिलहाल नीरव मोदी लंदन की वैंड्सवर्थ जेल में बंद है। अब उसके बाद यूके में कोई विकल्प नहीं बचा है और उसे भारत आना ही होगा। पिछले महीने ही नीरव मोदी ने युनाइटेड किंगडम के हाई कोर्ट में याचिका दाखिल की थी और प्रत्यर्पण के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में अर्जी डालने की मांग की थी।

 

इससे पहले उच्च न्यायालय ने नीरव मोदी की उस याचिका को खारिज कर दिया था, जिसमें उसने मानसिक स्वास्थ्य के आधार रर प्रत्यर्पण से राहत की मांग की थी। नीरव का कहना था कि यदि उसे भारत प्रत्यर्पित किया गया तो फिर वह तनाव में आ जाएगा और वह अपनी जान भी दे सकता है। अदालत ने उसके इस तर्क को खारिज कर दिया था और कहा था कि उसका स्वास्थ्य पूरी तरह से सही है और वह प्रत्यर्पण के योग्य है। भगोड़े हीरा कारोबारी नीरव मोदी ने इसके बाद ही सुप्रीम कोर्ट का रुख किया था, लेकिन वहां भी हार गया। अब उसके भारत आने का रास्ता साफ होता दिख रहा है।

 

पंजाब नेशनल बैंक से लोन लेकर हजारों करोड़ रुपये की धोखाधड़ी का मामला उजागर होने से पहले ही नीरव मोदी 2018 में भारत से भाग गया था। तब से ही सरकार उसके प्रत्यर्पण की लगातार कोशिश करती रही है, जिसे वह तमाम दलीलें देकर टालता रहा है। नीरव मोदी, मेहुल चोकसी, विजय माल्या जैसे कारोबारियों की धोखाधड़ी का मुद्दा देश की संसद में भी अकसर उठता रहा है।

 

धोखाधड़ी के अलावा सबूत मिटाने के भी हैं आरोप

इस मसले पर विपक्ष सरकार पर हमलावर रहा है। 13,500 करोड़ रुपये का फ्रॉड करने वाले नीरव मोदी ने अकेले पंजाब नेशनल बैंक को ही 7000 करोड़ रुपये का चूना लगाया था। नीरव मोदी पर धोखाधड़ी के अलावा सबूतों को मिटाने और गवाहों को धमकाने के आरोप भी हैं। नीरव मोदी का प्रत्यर्पण के खिलाफ आखिरी अपील में भी हार जाना सरकार के लिए बड़ी जीत की तरह है।

 

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular