HomePolticsNew Excise Policy: शराब घोटाले को लेकर बीजेपी का हल्लाबोल, पार्टी कार्यकर्ताओं...

New Excise Policy: शराब घोटाले को लेकर बीजेपी का हल्लाबोल, पार्टी कार्यकर्ताओं ने केजरीवाल के घर के बाहर किया प्रदर्शन

 

 

दिल्ली में शराब घोटाले को लेकर बीजेपी और आम आदमी पार्टी के बीच घमासान जारी है। बीजेपी कार्यकर्ताओं ने सोमवार को सीएम अरविंद केजरीवाल के घर के बाहर प्रदर्शन किया। पुलिस बैरिकेडिंग गिरा दी।

 

दिल्ली में शराब घोटाले को लेकर आप और बीजेपी के बीच जुबानी जंग तेज हो गई है। दोनों एक-दूसरे पर जमकर आरोप-प्रत्यारोप लगा रहे हैं। इसी बीच बीजेपी कार्यकर्ताओं ने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के आवास के बाहर आम आदमी पार्टी (आप) के खिलाफ विरोध-प्रदर्शन किया। इस दौरान कार्यकर्ताओं ने पुलिस बैरिकेडिंग को गिरा दिया। पुलिस को उन्हें काबू करने में काफी मशक्कत करनी पड़ रही है। बीजेपी प्रवक्ता गौरव भाटिया ने सीएम केजरीवाल पर सवालों से भागने का आरोप लगाया।

 

प्रदर्शन के दौरान बीजेपी ने सीएम केजरीवाल से पूछा है कि वो घोटाले को लेकर चुप्पी साधे हुए क्यों हैं। उनका मौन कब टूटेगा। साथ ही उनसे एक-एक पैसे का हिसाब मांगा है। पार्टी का कहना है कि केजरीवाल सवालों से बच क्यों रहे हैं। उन्हें जनता को जवाब देना चाहिए। बीजेपी प्रवक्ता गौरव भाटिया ने केजरीवाल को कट्टर बेईमान बताया है। उन्होंने पूछा है कि राजस्व को हुए घाटे की भरपाई कौन भरेगा?

 

मिलीभगत से बांटे शराब के ठेके

गौरव भाटिया ने सोमवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस कर रहा कि सिफारिश हुई थी कि लॉटरी सिस्टम के जरिए लोगों को शराब का ठेका दिया जाएगा। इससे ज्यादा से ज्यादा लोग इसमें हिस्सा ले सकते थे लेकिन दिल्ली के पूरे क्षेत्र को 32 जोन में बांटा गया। बिना लॉटरी 16 ऐसे कारोबारियों को दो-दो जोन दे दिए गए, जिनसे इनकी मिलीभगत थी। 10 प्रतिशत लाइसेंस फीस नहीं लेने की वजह से राजस्व को 900 करोड़ का नुकसान पहुंचा।

 

सीबीआई-ईडी खले रही है केंद्र

केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि बीजेपी जनता की चुनी हुई सरकारें गिराने में बिजी हैं। उन्होंने ट्वीट कर लिखा, ‘रुपया पिट रहा है, जनता महंगाई से परेशान है, बेरोजगारी आसमान छू रही है और ये लोग सीबीआई-ईडी खेल रहे हैं, देश भर में जनता की चुनी हुई सरकारें गिराने में व्यस्त हैं, सारा दिन गाली-गलौज करते हैं। लोग अपनी तकलीफें किसको बताएं, किसके पास जाएं? ऐसे देश कैसे तरक्की करेगा?’

 

 

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular