HomeBiharकिडनी के बदले किडनी चाहिए, बिहार की सुनीता ने दोनों गुर्दा निकालने...

किडनी के बदले किडनी चाहिए, बिहार की सुनीता ने दोनों गुर्दा निकालने वाले झोलाछाप की किडनी मांग ली

 

 

पवन ने पुलिस को पूछताछ में बताया कि उन्हें सुनीता के पेट में ट्यूमर होने का संदेह था। जब उसके गर्भाशय का ऑपरेशन किया जा रहा था, तब उन्होंने यूट्रस के साथ ट्यूमर समझकर दोनों किडनी को भी निकाल दिया।

 

बिहार के मुजफ्फरपुर में किडनी कांड की पीड़िता सुनीता ने ऑपरेशन करने वाले झोलाछाप डॉक्टर की दोनों किडनियां निकालने की मांग की है। उसकी मां ने तेतरी देवी ने कहा कि पुलिस आरोपी झोलाछाप को तुरंत गिरफ्तार करे। जिसने उसकी बेटी की किडनी निकाली पुलिस उसे पकड़कर लाए। इसके बाद उसकी किडनी निकालकर सुनीता को लगाई जाए। बता दें कि झोलाछाप आरके सिंह ने बच्चेदानी का ऑपरेशन कराने आई सुनाती की दोनों किडनियां निकाल ली थीं। इसके बाद से उसे अस्पताल में रखा गया है, जहां वो जिंदगी और मौत से लड़ रही है।

 

तेतरी देवी ने बुधवार को कहा कि डॉक्टर ने उसकी बेटी सुनीता को जीते जी मार डाला। ढाई महीने से वह अस्पताल में भर्ती है। सुनीता के इलाज में अब तक 12 लाख रुपये खर्च हो चुके हैं, परिवार को इसका मुआवजा मिलना चाहिए।

झोलाछाप डॉक्टर अब तक फरार

पुलिस ने हाल ही में सुनीता की दोनों किडनी निकालने के मुख्य आरोपी पवन कुमार को गिरफ्तार किया। वह शुभकांत अस्पताल चलाता था। उसने बरियापुर में सरेंडर किया था। पुलिस अभी तक ऑपरेशन करने वाले झोलाछाप डॉक्टर आरके सिंह और एनेस्थिसिया देकर सुनीता को बेहोश करने वाले एक शख्स की तलाश कर रही है।

 

ट्यूमर समझकर किडनी निकाली

पवन ने पुलिस को पूछताछ में बताया कि उन्हें सुनीता के पेट में ट्यूमर होने का संदेह था। जब उसके गर्भाशय का ऑपरेशन किया जा रहा था, तब उन्होंने यूट्रस के साथ ट्यूमर समझकर दोनों किडनी को भी निकाल दिया। ऑपरेशन करने वाले और एनेस्थिसिया देने वालों के पास कोई डिग्री भी नहीं थी।

 

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular