HomeBiharमोतिहारी:- ‘दोस्ती यूं ही इत्तेफाक नहीं होती, कुछ तो मायने होंगे इस...

मोतिहारी:- ‘दोस्ती यूं ही इत्तेफाक नहीं होती, कुछ तो मायने होंगे इस पल के, वर्ना यूं ही आपसे मुलाकात नहीं होती’

 

वीडियो देखे और subscribe करे 👈

मोतिहारी। शहर के पतौरा रोड स्थित शगुन विवाह भवन परिसर हंसी-ठहाकों से गूंज उठा। मौका था ब्रावो फार्मा के सीएमडी सह ब्रावो फाउन्डेशन के मुख्य संरक्षक राकेश पांडेय के जन्मदिवस पर आयोजित एलुमिनाई मीट का। मंगल सेमिनरी स्कूल के विद्यार्थी रहे राकेश पांडेय ने वर्ष 1992 के अपने दोस्तों से मुलाकात की। जब मिले पुराने यार तब बातें हुई हजार। पूर्ववर्ती छात्रों ने अपने स्कूल के दिनों को याद किया और एक-से-बढ़-कर एक किस्से सुनाएं। किस्सों में निकले मनोरंजक बातों पर सभी ने तालियां पीट-पीटकर हंसते रहें।

वीडियो देखे और subscribe करे 👈

इस कड़ी में पूर्ववर्ती छात्रों ने स्कूल कैंपस में बिताए दिनों को याद किया, तो वहीं करियर की संभावनाओं की जानकारियां देते भी नजर आएं। पूर्ववर्ती छात्र संजीव कुमार ने एक किस्सा सुनाया, कि हम लोग स्कूल में पढ़ाई कम करते थे। लेकिन, स्कूल को बेहतर बनाने एवं सुविधाएं विकसित करने की दिशा में हमेशा आगे रहें। क्लास करते-करते जब हम लोग सिनेमा हॉल पहुंच जाते थे। इसका पता नहीं चल पाता था। मामला जब फंसता था तो दोस्त यार और सीनियर मामला सलटा लेते थे। यह किस्सा सुन सभी दोस्त तालियां पीट-पीटकर हंसते रहें। राकेश पांडेय ने एक शेर ‘खुशियां किसी की मोहताज नहीं होती, दोस्ती यूं ही इत्तेफाक नहीं होती, कुछ तो मायने होंगे इस पर पल के, वर्ना यूं ही आपसे मुलाकात नहीं होती’ से वातावरण को आनंदित कर दिया।

वीडियो देखे और subscribe करे 👈

इस मौके पर सभी छात्रों ने लजीज व्यंजनों का जमकर लुत्फ भी उठाया। इस कड़ी में राकेश पांडेय का धूमधाम से केक काटकर जन्मदिन भी मनाया गया। गौरतलब हो कि राकेश पांडेय की दवा कंपनी ब्रावो फार्मा एशिया सहित अफ्रिकी देशों में स्थापित है। उद्योगपति होने के बावजूद चंपारण में सामाजिक कार्यो में भी सक्रिय हैं। चंपारण में शिक्षा के क्षेत्र में ब्रावो फाउंडेशन का अहम योगदान रहा। नवयुवक पुस्तकालय, मोतीहारी के जीर्णोधार के साथ साथ  कोराना काल में लॉज या हॉस्टल में रह रहे छात्रों का रूम रेंट माफ करना हो या राहत सामग्री का वितरण करना। इन सभी में उनकी अग्रिम भूमिका रही। सैकड़ों की संख्या में फाउंडेशन ने जरूरतमंदों के बीच मास्क भी बांटे। फाउंडेशन की एक और बड़ा कार्य चल रहा, इसमें सेनेटरी नैपकिन का वितरण। गांव-गांव, घर-घर ग्रामीण क्षेत्रों में सेनेटरी नैपकिन बांटे जा रहें। कार्यक्रम में बीएसएनएल में कार्यरित विकास कुमार मिश्रा की भूमिका अहम रही। धीरज श्रीवास्तव, संजीव सिंह, असीम, डॉ जयदीप, डॉ. ओमप्रकाश, डॉ. मनीष, डॉ. संजीव, पंकज तिवारी, आलोक पांडेय, बलराम सिंह, विभूति सिंह, गिरधारी, सुधीर कुमार आदि उपस्थित थे।

शैलेन्द्र मिश्र बाबा

   ब्रावो फाउन्डेशन, मोतीहारी। 

वीडियो देखे और subscribe करे 👈

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular