HomeBiharसीएम नीतीश ने खेत में जाकर देखी सुखाड़ की स्थिति, दूसरे दिन...

सीएम नीतीश ने खेत में जाकर देखी सुखाड़ की स्थिति, दूसरे दिन कार से निकले सीएम ; कहा- किसानों को नहीं होगी कोई दिक्कत

 

 

मानसून की बेरुखी से बिहार में सुखाड़ की स्थिति बनती जा रही है। राज्य के हर जिले में लक्ष्य के अनुरूप धान को रोपाई नहीं हो सकी है। अधिकांश जिलों में 50 प्रतिशत टारगेट भी पूरा नहीं हो पाया। ऐसे में सीएम नीतीश कुमार लगातार हालात पर नजर बनाए हुए हैं। शनिवार को दूसरे दिन मुख्यमंत्री अल्प बारिश से उत्पन्न स्थिति का जाजया लेने निकले।  मौसम खराब होने की वजह से सीएम शनिवार को सड़क मार्ग से कार से निकले।  इसे पहले शुक्रवार को वे हेलीकॉप्टर से हवाई सर्वेक्षण पर निकले थे। गया, जहानाबाद और औरंगाबाद का भ्रमण किया था।

 

शनिवार को मुख्यमंत्री का पटना से जमुई, लखीसराय और मुंगेर के लिए निकला। इस क्रम में सीएम शेखपुरा भी पहुंचे। बरबीघा के पास नीतीश कुमार ने गाड़ी रुकवाकर खेतों का जायजा लिया। वे कार से उतरकर खेतों में चले गए। पीछे-पीछे प्रशासनिक और कृषि विभाग का अमला भी दौड़कर पहुंचा। शेखपुरा में इस साल बहुत काम बारिश हुई है जिसका असर वहां के खेतों में स्पष्ट दिखता है। मुख्यमंत्री ने किसानों की इस दशा को देखकर चिंता जताई। सीएम ने कहा कि हवाई सर्वेक्षण में वस्तुस्थिति का पता नहीं चल पाता है।

 

सीएम के दौरे में कृषि विभाग के कई वरीय पदाधिकारी मौजूद रहे। कृषि सचिव एन श्रवण कुमार के साथ जिले के कृषि पदाधिकारी को सीएम ने कई निर्देश दिया। जिला कृषि पदाधिकारी ने बताया कि शेखपुरा में बसंत और चेवाड़ा पंचायतों में दौड़े की तैयारी थी। मगर लालूनगर में सीएम ने सुखाड़ का आकलन किया।

 

पटना लौटकर सीएम ने ट्विटर पर अपने दौरे की जानकारी दी। सीएम ने कहा कि नालंदा, शेखपुरा, जमुई और लखीसराय में धान की रोपनी का जाजया लिया। अधिकारियों को निर्देश दिया गया है कि किसानों को किसी प्रकार की कोई दिक्कत नहीं होना चाहिए। सूखे की संभावित स्थिति को देखते हुए उन्हें हर संभव मदद दिया जाएगा। किसानों को डीजल अनुदान, 16 घंटे निर्बाध बिजली के साथ वैकल्पिक खेती के लिए बीज उपलब्ध कराया जाएगा।

 

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular