HomeSports73 गेंदों में शतक ठोकने के बाद भी खुश नहीं चेतेश्वर पुजारा,...

73 गेंदों में शतक ठोकने के बाद भी खुश नहीं चेतेश्वर पुजारा, कहा- मैच न जीतने का है मलाल, बताया वनडे करियर की सर्वश्रेष्ठ पारी

 

भारत के स्टार बल्लेबाज चेतेश्वर पुजारा ने रॉयल लंदन वन डे कप के मैच में वारविकशायर के खिलाफ 79 गेंदों में 107 रन की दमदार पारी खेली। हालांकि उनकी टीम ससेक्स को मैच में 4 रन से हार का सामना करना पड़ा। चेतेश्वर पुजारा ने मैच में अपने दमदार प्रदर्शन को 50 ओवर के फॉर्मेट की सबसे अच्छी पारी बताया है। उन्होंने कहा कि अगर टीम मैच जीतती तो ये उनके लिए और शानदार होता।
पुजारा ने मध्यम तेज गेंदबाज लियाम नोर्वेल को 45वें ओवर में तीन चौके और एक छक्का जड़ा। उन्होंने अपनी पारी में सात चौके और दो छक्के लगाये। वह 49वें ओवर की पहली गेंद पर आउट हुए। ससेक्स की टीम सात विकेट पर 306 रन ही बना सकी।

वहीं स्टार हरफनमौला कृणाल पंड्या ने वार्विकशर के लिये तीन विकेट लिये जिनमें से दो बल्लेबाज खाता भी नहीं खोल सके। पांड्या ने अली ओर (81), टॉम क्लार्क (30) और डेलरे रॉलिंस (11) के विकेट चटकाये।

ससेक्स के आधिकारिक YouTube चैनल से बात करते हुए पुजारा ने अंत तक वहां नहीं रहने और अपनी टीम को जीत न दिलाने पर निराशा व्यक्त की। पुजारा ने सफेद गेंद वाले क्रिकेट में भारत के लिए शतक नहीं बनाया है, लेकिन शुक्रवार से पहले 11 लिस्ट ए शतक बनाए थे।

पुजारा ने कहा, ”यह वनडे प्रारूप में सर्वश्रेष्ठ पारियों में से एक थी। अगर यह जीत के साथ होती, तो यह बेहतर होता। हम बहुत दूर नहीं थे। मैं आखिरी तक वहां रहना चाहता था। अगर मैं आउट नहीं हुआ होता, तो हमारे पास मैच जीतने का थोड़ा और मौका था।”
पुजारा काउंटी चैंपियनशिप डिवीजन टू में ससेक्स के लिए शानदार फॉर्म में थे, उन्होंने 8 मैचों में 5 शतकों सहित 1094 रन बनाए। उन्होंने ससेक्स के लिए अब तक एक अर्धशतक बनाकर रॉयल लंदन वन डे कप में रेड-बॉल फॉर्म जारी रखा है।

 

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular