HomeBiharभोला से पूछताछ के बाद बिहार में CBI रेड!: सुनील सिंह को...

भोला से पूछताछ के बाद बिहार में CBI रेड!: सुनील सिंह को राखी बांधती हैं राबड़ी; लालू के बेहद करीब हैं दोनों

 

 

बिहार में नौकरी के बदले जमीन घोटाले में सीबीआई ने कई जगहों पर छापेमारी की। इनमें लालू यादव के करीबी भी शामिल थे। एमएलसी सुनील कुमार सिंह के आवास पर भी सीबीआई ने दबिश दी थी। कहा जा रहा है कि भोला यादव से पूछताछ के आधार पर लालू परिवार के दूसरे नजदीकी सुनील कुमार सिंह के शास्त्रीनगर, पटना स्थित आवास पर छापेमारी की गई।

 

सुनील सिंह और भोला यादव को लालू परिवार के बेहद करीब माना जाता है। सुनील कुमार सिंह को राबड़ी देवी राखी बांधती हैं। जबकि भोला यादव हर समय लालू के साथ रहा करते थे। हालांकि, भोला यादव के ठिकानों पर पहले ही सीबीआई ने छापेमारी की थी और उन्हें 27 जुलाई को दिल्ली से गिरफ्तार भी किया जा चुका है। खबर है कि उनसे पूछताछ भी हुई है, और उसी के आधार पर कार्रवाई हुई है।

 

दोनों को लालू का बड़ा राजदार मानती है CBI

भोला यादव और सुनील कुमार सिंह दोनों नेता लालू प्रसाद के नजदीकी ही नहीं हैं बल्कि बड़े राजदार भी माने जाते हैं। इसलिए सीबीआई चाहती है कि इनके जरिए तह तक पहुंचा जा सके। भोला यादव तो कई जमीन खरीद में गवाह की भूमिका में रहे हैं। लालू प्रसाद जब रेल मंत्री थे भोला यादव उनके ओएसडी थे। नौकरी के बदले जमीन मामले में सीबीआई लालू प्रसाद के विभिन्न ठिकानों को खंगाल चुकी है।

भोला यादव लालू और कार्यकर्ता के बीच कड़ी तो सुनील सिंह धन से भी मजबूत

भोला यादव की छवि शांत नेता की रही है। भोला यादव लालू प्रसाद और कार्यकर्ताओं के बीच बड़ी कड़ी की तरह काम करते रहे हैं। सुनील कुमार सिंह बिस्कोमान के चेयरमैन हैं। धनबल से मजबूत हैं। लालू प्रसाद के ठिकानों पर सीबीआई की छापेमारी के बाद यह आशंका थी कि लालू प्रसाद के बेहद नजदीकी भोला यादव और सुनील कुमार सिंह पर भी दबिश बढ़ेगी। वही हुआ भी।

अब CBI के निशाने पर तेजस्वी- सुनील सिंह

सुनील कुमार सिंह ने छापेमारी के बाद कहा कि ’13 घंटे तक सीबीआई ने तलाशी ली जिसमें उन्हें 2.64 लाख रुपए घर से मिले। ये रुपए मेरे बेटे और बहू के हैं। सीबीआई ने मेरे सभी खातों को भी खंगाला। सीबीआई यह देखना चाहती थी कि इनका तेजस्वी यादव से कोई लिंक तो नहीं है। अब निशाने पर लालू यादव नहीं तेजस्वी हैं।’

कौन हैं सुनील कुमार सिंह

  1. सुनील कुमार सिंह राजद एमएलसी हैं। 2003 से बिस्कोमान के अध्यक्ष हैं। पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी के मुंहबोले भाई हैं, राबड़ी उन्हें राखी बांधती हैं।
  2. वे ऐसे नेताओं में हैं जिन्होंने दुख के समय में भी लालू प्रसाद का साथ नहीं छोड़ा। सीबीआई की छापेमारी जब राबड़ी आवास में हुई थी तब राबड़ी आवास के अंदर जाने वालों में सुनील सिंह भी थे।
  3. वे सहकारिता से जुड़े नेता हैं। इस नाते देश भर में इससे जुड़े आयोजनों में काफी सक्रिय रहते हैं। धनबल से मजबूत माने जाते हैं। राजद के प्रदेश कोषाध्यक्ष हैं। कहा जाता है कि एमएलसी चुनाव में भी काफी कुछ उन्होंने संभाल रखा था।
  4. राष्ट्रीय जनता दल के कार्यालय को इतना खूबसूरत रूप मिला है, इसमें सुनील कुमार सिंह का बड़ा योगदान है। राजद कार्यालय के लिए इन्होंने ही पत्थर का लालेटन मंगवाया था जिसका उद्घाटन लालू प्रसाद ने किया था।
  5. विधान परिषद में तथ्यों के साथ किसानों के सवाल के साथ ही बाकी सवाल उठाते रहे हैं। राजद की ओर से विधान परिषद में बोलने वाले नेता की छवि है।

 

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular