HomeBiharबिहारः नीतीश कुमार के एक मंत्री को जान से मारने की धमकी,...

बिहारः नीतीश कुमार के एक मंत्री को जान से मारने की धमकी, राजद ने की अविलंब कार्रवाई की मांग

 

सोमवार को अपराह्न 3.14 बजे दीपक पांडेय नाम के शख्स का फोन आया था। आरोप है कि फोन करने वाले ने जाति सूचक शब्द कहकर मंत्री को गालियां और जान से मारने की धमकी दी। वह लगातार आलोक मेहता को फोन करता रहा।

 

बिहार सरकार के राजस्व एवं भूमि सुधार व गन्ना उद्योग मंत्री आलोक कुमार मेहता को जान से मारने की धमकी मिली है। सोमवार को दो अलग-अलग मोबाइल नंबर से फोन कर उन्हें गालियां और धमकी दी गई। मंत्री ने इसकी लिखित शिकायत सचिवालय थाने में की है। मामले की जांच जारी है। सचिवालय थाना प्रभारी ने बताया कि फिलहाल कोई मुकदमा दर्ज नहीं किया गया है। इस मामले को लेकर सत्ताधारी दल राजद गर्म हो गया है।

आलोक मेहता पटना के 12 मैंग्लस रोड में रहते हैं। उनके सरकारी मोबाइल फोन पर धमकी दी गयी। सोमवार को अपराह्न 3.14 बजे दीपक पांडेय नाम के शख्स का फोन आया था। आरोप है कि फोन करने वाले ने जाति सूचक शब्द कहकर मंत्री को गालियां और जान से मारने की धमकी दी। फोन काटने के बावजूद वह लगातार आलोक मेहता को फोन करता रहा।

 

कॉलर से परेशान होकर मंत्री ने उस नंबर को ब्लाक कर दिया। इसके कुछ देर बाद पप्पू त्रिपाठी के नंबर से उन्हें धमकी दी जाने लगी। आलोक मेहता ने लिखित शिकायत में दोनों नंबरों का जिक्र किया है। मालूम हो कि एक बयान को लेकर मंत्री आलोक मेहता इन दिनों चर्चा में हैं। फिलहाल मामले की छानबीन की जा रही है।

राजद ने कार्रवाई की मांग की

मंत्री को मिली धमकी से राजद के तेवर तल्ख हो गए हैं। मंत्री आलोक मेहता राजद के ही विधायक हैं। पार्टी के प्रवक्ता एजाज अहमद और चितरंजन गगन ने अविलंब आरोपितों की गिरफ्तारी की मांग की है। साथ ही मंत्री की सुरक्षा और कड़ी करने की सरकार से अपील की है।

 

आलोक मेहता ने 10 प्रतिशत वालों पर दिया था विवादित बयान

भूमि सुधार मंत्री आलोक मेहता एक एक बयान सुर्खियों में है। भागलपुर की एक सभा में उन्होंने सवर्ण जातियों के खिलाफ टिप्पणी की थी। उन्होंने कहा था कि मंदिर में घंटी बजाने वाले सत्ता में हैं। यह भी कहा था कि 10 प्रतिशत लोग अंग्रेंजों के दलाल थे।

 

 

 

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular