HomeBiharकुढ़नी में हार के बाद महागठबंधन में घमासान, नीतीश के इस्तीफे के...

कुढ़नी में हार के बाद महागठबंधन में घमासान, नीतीश के इस्तीफे के साथ तेजस्वी को CM बनाने की मांग

 

 

कुढ़नी उपचुनाव में हार के बाद महागठबंधन में घमासान मच गया है। पूर्व RJD विधायक अनिल सहनी ने सीएम नीतीश के इस्तीफे के साथ तेजस्वी यादव को मुख्यमंत्री बनाने की मांग कर दी है।

 

कुढ़नी विधानसभा उपचुनाव में हार के बाद बिहार महागठबंधन में घमासान मच गया है। कुढ़नी से आरजेडी के पूर्व विधायक अनिल सहनी ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को हार का जिम्मेदार ठहराया है। उन्होंने सीएम नीतीश से इस्तीफे की मांग भी कर दी। साथ ही कहा कि नीतीश कुमार से अति पिछड़ा वर्ग नाराज है। अब समय आ गया है कि डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव को मुख्यमंत्री बनाया जाए।

 

आरजेडी के पूर्व विधायक अनिल सहनी ने शुक्रवार को मीडिया से बातचीत में कहा कि ये कुढ़नी चुनाव हम नीतीश कुमार की जिद की वजह से हारे। सीएम नीतीश गोपालगंज और मोकामा में प्रचार करने नहीं गए। मगर कुढ़नी में प्रचार किया। कुढ़नी में तेजस्वी यादव ने आरजेडी का चुनाव चिह्न त्याग दिया। फिर भी हम हार गए। अब समय आ गया है कि महागठबंधन को मजबूत करने के लिए तेजस्वी को सीएम बनना चाहिए।

 

‘कुढ़नी में नीतीश की हार, महागठबंधन की नहीं’

अनिल सहनी ने कहा कि कुढ़नी में नीतीश की हार है न कि महागठबंधन की। कुढ़नी अति पिछड़ा वर्ग की सीट थी, जहां पर सीएम नीतीश ने गैर अति पिछड़ा वर्ग का उम्मीदवार उतारा। उपचुनाव में महागठबंधन को जितने भी वोट मिले वो तेजस्वी यादव की वजह से मिले।

बता दें कि अनिल सहनी 2020 के विधानसभा चुनाव में आरजेडी के टिकट से कुढ़नी पर चुनाव लड़े थे। उस समय उन्होंने बीजेपी के केदार गुप्ता को करीबी मुकाबले में मात दी थी। इस साल एलटीसी घोटाले में सजा होने के बाद उनकी विधानसभा सदस्यता रद्द कर दी गई। इसके बाद ही कुढ़नी में उपचुनाव की नौबत आई। उपचुनाव में यह सीट महागठबंधन में जेडीयू के खाते में आई। मगर जेडीयू प्रत्याशी मनोज कुशवाहा को हार का सामना करना पड़ा।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular