HomeBiharछपरा में जहरीली शराब से अब तक 73 लोगों की मौत, 25...

छपरा में जहरीली शराब से अब तक 73 लोगों की मौत, 25 की आंखों की रोशनी गई, डर के मारे जलाए जा रहे शव

 

 

शराब त्रासदी के तीसरे दिन मशरक, अमनौर और इसुआपुर में 26 लोगों की मौत हो हुई। शुक्रवार को तो एक नया इलाका दरियापुर भी जुड़ गया। अस्पतालों में भर्ती लगभग 25 मरीजों की आंखों की रोशनी भी छिन गई है।

 

बिहार में जहरीली शराब से मौत का सिलसिला जारी है। सारण जिला, जिसका मुख्यालय छपरा में है, यहां जहरीली शराब से मरने वालों की संख्या 73 हो गई है। विभिन्न जगहों पर इलाजरत लोगों की गंभीर स्थिति को देखते हुए मृतकों की संख्या और भी बढ़ने के आसार हैं। कुछ लोगों की मौत होने के बाद परिजन ने आनन-फानन में शवों को जला दिया। कुछ मामलों में डर के मारे ठंड या बीमारी से मौत होने की बात कही गई। अगर इनकी भी गिनती करें, तो जिले में मरने वालों का आंकड़ा 80 तक पहुंच गया है। छपरा के अलावा सीवान में 5 और बेगूसराय में भी एक शख्स की जहरीली शराब से मौत हो चुकी है। 25 लोगों की आंखों की रोशनी भी चली गई है।

 

शराब त्रासदी के तीसरे दिन मशरक, अमनौर और इसुआपुर में 26 लोगों की मौत हो हुई। शुक्रवार को तो एक नया इलाका दरियापुर भी जुड़ गया जहां एक की मौत हो गई और चार को रेफर किया गया है। लगभग छह लोगों की गांव में तबीयत बिगड़ी है। छपरा अस्पताल और पटना स्थित पीएमसीएच में 30 से अधिक लोगों का  इलाज चल रहा है। छपरा अस्पताल, निजी क्लीनिक और पटना  में भर्ती लगभग 25 मरीजों की आंखों की रोशनी छिन गई है।

 

7 गिरफ्तार, 15 लोग हिरासत में

जहरीली शराब मामले की जांच कर रही एसआईटी ने सात को लोगों को गिरफ्तार किया है, जबकि पूछताछ के लिए  15 लोगों को   हिरासत में लिया गया है।  एसपी ने पिछले 24 घंटे में 213 लोगों को पकड़े जाने की बात कही है। उधर, मशरक थाना पुलिस ने अलग-अलग गांवों में जहरीली शराब पीकर मरने वालों के मामले में प्राथमिकी दर्ज कर ली। पुलिस आरोपी अनिल सिंह और गुड्डू पांडेय को गिरफ्तार कर पूछताछ कर रही है। आधिकारिक तौर पर अब तक 30 मृतकों का पोस्टमार्टम सरकारी अस्पताल में प्रशासन की ओर से कराया गया है।

 

शराब कारोबारियों से मिली शराब के सैंपल ले गई एफएसएल की टीम 

सारण जिले में जहरीली शराब से हुई मौत मामलों को लेकर जिला प्रशासन से लेकर पुलिस मुख्यालय भी काफी गंभीर है। गुरुवार को छपरा के मशरक और इसुआपुर पहुंची एफएसएल की टीम शराब कारोबारियों के पास से पुलिस द्वारा जब्त की गई शराब के सैंपल जांच के लिए पटना अपने साथ लेकर गई है। अब जांच रिपोर्ट आने के बाद पूरी तरह से स्पष्ट हो जाएगा कि इस शराब के अंदर कौन से जहरीली पदार्थ मिलाए गए हैं और पूरा मामला क्या है।

 

यहां चौकीदार और वर्दीधारी भी पीते हैं शराब

शराब के मामले में छपरा पुलिस का दामन दागदार रहा है। जिले में चौकीदार, पुलिस के वर्दीधारी पदाधिकारी और जवान भी शराब पीने और शराबियों को बचाने के मामले में जेल जा चुके हैं।  जिले के एकमा थाने में पदस्थापित एएसआई निरंजन मंडल शराब के नशे में पकड़े गए थे। इसके बाद उनको गिरफ्तार कर लिया गया। वे रात भर अपने ही थाने के हाजत में बंद रहे। फिर निरंजन मंडल को मेडिकल जांच के बाद जेल भेज दिया गया था। दरअसल मंडल शराब के नशे में थाना परिसर में हंगामा कर रहे थे तभी वहां डीएसपी पहुंच गए। डीएसपी ने एएसआई निरंजन मंडल का मेडिकल करवा दिया, जिसमें शराब पीने की पुष्टि हुई। इसके अलावा जिले के तरैया थाने में पदस्थापित जमादार हरेंद्र पासवान को शराब माफिया से सांठगांठ रखने के बाद एसपी संतोष कुमार जेल भेज चुके हैं।

 

जब्त स्पिरिट को जांच के लिए भेजा गया सैंपल

शराब कांड के बाद  मशरक थाना से जब्त स्पिरिट और अन्य थाना में भी जब्त की गई स्पिरिट का सैंपल इकट्ठा कर जांच को भेजा गया है। एसपी ने बताया कि जिले के सभी थानों में सीसीटीवी कैमरे लगे हुए हैं पर कुछ लोग अफवाह फैला रहे हैं कि थाने से शराब निकली है जबकि थाने में सीसीटीवी कैमरे भी लगे हैं और उत्पाद विभाग और अन्य पुलिस टीम ने सैंपल लिया है। वैसे सभी बिंदुओं पर पुलिस टीम जांच कर रही है। लगातार शराब कारोबारियों के खिलाफ जिले में अभियान चलाया जा रहा है। उन्होंने बताया कि शराब के कारोबार करने वाले कारोबारियों की सूची भी तैयार कर टीम छापेमारी जिले के सभी थाना क्षेत्र में कर रही है।

शराब कांड में पुलिस जल्द एसोसिएट तक पहुंचेगी : एसपी

छपरा में शराब कांड को लेकर पुलिस प्रशासन सक्रिय हो गया है। एसपी संतोष कुमार ने बताया कि इस कांड में शामिल शराब कारोबारियों से पूछताछ के बाद इसके जो एसोसिएट हैं उन्हें भी जल्द गिरफ्तार किया जाएगा। शराब कहां से आई और इस धंधे में कौन-कौन से लोग शामिल हैं, उन सभी को गिरफ्तार करने के लिए एसआईटी गठित की गई है और वह लगातार काम कर रही है। उन्होंने बताया कि एसआईटी की टीम उन सभी लोगों से गहराई से पूछताछ कर रही है जो इस कांड में शामिल हैं।

 

बूढ़े बाप का बोझ उठाने को चौकीदारी के बेटों की धंधेबाजों से सांठगांठ

सारण जिले के थानों में बूढ़े हो चले चौकीदारों के बेटों का जलवा है। उनकी सांठगांठ असामाजिक तत्वों के साथ है। जहरीली शराब से  70 से अधिक मौत के मामले में भी इनकी संलिप्तता उजागर हुई है। चौकीदार पिता-पुत्र के भी साथ शराब पीने की बात कही जा रही है। इसका ताजा उदाहरण इसुआपुर के सिसवा में शराब पीने से हुई चौकीदार के बेटे मिथलेश राय की मौत ही है। मालूम हो कि जिले के थानों में बूढ़े व लाचार हो चले चौकीदारों की जगह पर ड्यूटी बजाने उनके बेटे थाना पर रहते हैं। वे युवा हैं और उनकी जरूरतें व समाज बड़ा है। पुलिस का रुतबा भी अप्रत्यक्ष रूप से मिल ही गया है तो फिर क्या कहना। असामाजिक तत्व शराब कारोबारी, छोटे बड़े अपराध कर्मी, सीएसपी के पैसे लूटने व लाइनर समेत अनैतिक कामों में उनकी दिलचस्पी अधिक है। वर्दी और बाप के नाम की कोई परवाह नहीं है। आधा दर्जन से अधिक ऐसी बड़ी घटनाएं हुई हैं, जिसमें चौकीदार पुत्रों की संलिप्तता पाई गई है। ऐसे में स्थानीय प्रबुद्ध लोगों की मांग है कि चौकीदार पुत्रों पर प्रशासन नजर रखे और उन्हें थाने की महत्वपूर्ण संचिकाओं और कार्यों से दूर ही रखा जाए।

 

चौकीदार के बेटे ने भी तोड़ा दम, परिजन पोस्टमार्टम हाउस से लेकर भागे

इसुआपुर थाना क्षेत्र के सिसवा गांव के रहने वाला मिथिलेश कुमार उसी थाना क्षेत्र के चौकीदार का बेटा था। जहरीली शराब पीने से उसकी भी मौत हो गई।  इसी तरह इसुआपुर थाना क्षेत्र के रोहिल्ला गांव की रहने वाली महिला मंजू देवी, जिसके बारे में कहा जा रहा है कि शराब कारोबारी थी, उसकी भी मौत जहरीली शराब पीने से पीएमसीएच में हो गई। मढौरा थाना क्षेत्र के लालापुर के रहने वाले कारोबारी रमेश महतो, उसका बेटे विक्की महतो और भाई रंगीला महतो की भी मौत हो गई है।

सारण जिले में जहरीली शराब से मरने वालों की सूची
1 अजय गिरि, पिता सूरज गिरि, बहरौली मशरक
2 चंदेश्वर साह, पिता भिखार साह, बहरौली मशरक
3 जगलाल साह, पता भरत साह, बहरौली मशरक
4 अनिल ठाकुर, पिता परमा ठाकुर, बहरौली मशरक
5 सीताराम राय, पिता सिपाही राय, बहरौली मशरक
6 एकराकुल हक, पिता मकसूद अंसारी, बहरौली मशरक
7 दूधनाथ तिवारी, पिता- महावीर तिवारी, बहरौली मशरक
8 शैलेन्द्र राय, पिता दीनानाथ राय,बहरौली मशरक
9 हरेंद्र राम, पिता गणेश राम, मशरक तख्त
10 भरत साह, पिता गोपाल साह, शास्त्री टोला , मशरक
11 मोहम्मद नसीर, पिता शमशुद्दीन मियां, तख्त मशरक
12 रामजी साह, पिता गोपाल साह, शास्त्री टोला, मशरक
13 भरत राम, पिता मोहर राम, मशरक तख्त
14 कुणाल सिंह, पिता जद्दु सिंह, यदु मोड़ , मशरक
15 मनोज कुमार, पिता लालबहादुर राम, दुरगौली, मशरक
16 गोविंदा राय, पिता घिनावन राय, पचखण्डा, मशरक
17  रमेश राम, पिता कन्हैया राम, बेन छपरा, मशरक
18 ललन राम, पिता करीमन राम, शियरभुक्का, मशरक
19  जयदेव सिंह, पिता बिन्दा सिंह, बेन छपरा, मशरक
20 सूरज साह पिता मथुरा साह बहरौली,मशरक
21 रूपेश साह पिता मिश्री साह बहरौली,मशरक
22 जे पी सिंह  गोपालबारी,मशरक
23 विश्वकर्मा पटेल  गोपालबारी,मशरक
24 संजय कुमार सिंह, पिता वकील सिंह, डोयला, इसुआपुर
25 अमित रंजन उर्फ रूनू, पिता द्विजेन्द्र सिन्हा, डोयला इसुआपुर
26 बिचेन्द्र राय, पिता नरसिंह राय, डोयला,इसुआपुर
27प्रेमचंद पिता मुन्नीलाल साह, रामपुर अटौली, इसुआपुर
28 दिनेश ठाकुर , पिता अशर्फी ठाकुर महुली इसुआपुर
29 उपेन्द्र राम,पिता- अक्षलाल राम, अमनौर
30- उमेश राय,पिता- शिवपूजन राय, अमनौर
31- सलाउद्दीन मियां, पिता वकील मियां, अमनौर
32- विक्की महतो, पिता- सुरेश महतो, मढौरा
33- बिक्रम राज, खरौनी,मढौरा
34-छोटे साह, खरौनी, मढौरा
35-रमेश महतो- लालापुर, मढौरा
36-रंगीला महतो, लालापुर, मढौरा
37-सुरेंद्र सिंह- हुस्सेपुर, अमनौर
38- दशरथ महतो- महुली, इसुआपुर
39- विक्की महतो- चहपुरा, इसुआपुर
40- श्रीभगवान सिंह-डीह छपिय, तरैया
41-तारक नाथ शर्मा-टोले छपिया, तरैया
42- नथुनी राम- बिन टोलिया छपिया, तरैया
43- वीरेंद्र राम-बिन टोलिया छपिया,तरैया
44- जयलाल राय- हुस्सेपुर
45- मुकेश राम- मनी सिरिसिया
46- योगेंद्र कुंवर-मशरक
47- दूधनाथ सिंह कुशवाहा-मशरक
48- मनोज सिंह कुशवाहा-मशरक
49- मुन्ना आलम-मशरक
50- सिपाही राय-मशरक
51- मुकेश कुमार-मशरक
52- विनोद शर्मा-अमनौर
53- मिथलेश राय-इसुआपुर
54- राकेश सिंह-इसुआपुर
55- हरिकिशोर राय-इसुआपुर
56- बलि सिंह-इसुआपुर
57- अभय कुमार गिरी-इसुआपुर
58- मंजू देवी-इसुआपुर
59- पिंटू राय-दरियापुर
60- मुकेश शर्मा-मशरक
61- चन्द्रमा राम- मशरक
62- दिनेश ठाकुर-मशरक
63- सुरेन साह-मशरक
64- जतन साह-मशरक
65- हरेराम सिंह-मशरक
66- मोहन प्रसाद यादव-मशरक
67- कन्हैया सिंह-मशरक
68- बृजेश कुमार राय-मशरक
69- चमचम साह-मशरक
70- कमलेश साह-मशरक
71- प्रेम तिवारी-मशरक

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular