Homeनई दिल्ली10 दिन में नहीं सिसोदिया को 2-3 दिन में गिरफ्तार कर लेंगे,...

10 दिन में नहीं सिसोदिया को 2-3 दिन में गिरफ्तार कर लेंगे, बोले केजरीवाल- मुझे महसूस हो गया है

 

 

उन्होंने कहा, ‘हमने 2 लाख सरकारी नौकरियां और 10 लाख प्राइवेट नौकरियां दी हैं। इससे देश के लोगों में उत्साह बढ़ा है। मैं यह कहना चाहता हूं कि मैं एक ईमानदार इंसान हूं और मैं सीबीआई से नहीं डरता हूं।’

 

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने दावा किया है कि डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया को अगले एक-दो दिन में गिरफ्तार कर लिया जाएगा। मंगलवार को गुजरात के भावनगर में मौजूद केजरीवाल ने कहा, ‘हमने सुना था कि सीबीाई मनीष सिसोदिया को अगले 10 दिनों के अंदर गिरफ्तार करेगी, लेकिन अब मुझे महसूस हो रहा है कि वो लोग उन्हें 2-3 दिनों में गिरफ्तार कर लेंगे।’

 

बता दें कि गुजरात विधानसभा चुनाव की तैयारियों को देखते हुए अरविंद केजरीवाल और मनीष सिसोदिया दो दिनों के दौरे पर गुजरात में हैं। आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल ने भानवगर में एक सभा को संबोधित करते हुए मनीष सिसोदिया की गिरफ्तारी को लेकर यह बातें कही हैं। इससे पहले 19 अगस्त को सीबीआई ने सिसोदिया के घर और दिल्ली में शराब घोटाले से जुड़े विभिन्न ठिकानों पर छापेमारी की थी।

 

बहरहाल भावनगर में दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने शहर में विकास को लेकर अपनी बात रखी। उन्होंने कहा, ‘हमने 2 लाख सरकारी नौकरियां और 10 लाख प्राइवेट नौकरियां दी हैं। इससे देश के लोगों में उत्साह बढ़ा है। मैं यह कहना चाहता हूं कि मैं एक ईमानदार इंसान हूं और मैं सीबीआई से नहीं डरता हूं।’

 

इससे पहले सोमवार को अरविंद केजरीवाल ने गुजरात दौरे के दौरान मनीष सिसोदिया का बचाव करते हुए कहा था कि सिसोदिया ने जो किया उसे कोई सात दशकों में भी हासिल नहीं कर सकता है। आप के चीफ ने इसी साल गुजरात में होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले यहां लोगों से कई बड़े वादे भी किये थे।

 

अरविंद केजरीवाल ने कहा था, ‘हम सभी गुजरातियों को मुफ्त और बेहतर स्वास्थ्य सुविधा की गारंटी देते हैं। गांव और शहरों में मोहल्ला क्लिनिक, हेल्थ क्लिनिक खोले जाएंगे। हम सरकारी अस्पतालों में सुविधाएं बढ़ाएंगे और नए सरकारी अस्पताल भी खोलेंगे।’

 

बता दें कि दिल्ली के उपराज्यपाल वीके सक्सेना द्वारा दिल्ली आबकारी नीति 2021-22 के संबंध में आबकारी विभाग के 11 अधिकारियों के खिलाफ “गंभीर चूक” के लिए निलंबन और अनुशासनात्मक कार्यवाही शुरू करने के कुछ दिनों बाद गृह मंत्रालय ने तत्कालीन आबकारी आयुक्त अरवा गोपी कृष्णा और उपायुक्त आनंद तिवारी को निलंबित कर दिया है।

 

 

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular