Breaking News

सैनिक सम्मान के साथ जवान को किया विदा, अंतिम यात्रा में उमड़ा जनसैलाब

 सैनिक  सम्मान के साथ जवान को किया विदा, अंतिम यात्रा में उमड़ा जनसैलाब




ड्यूटी के दौरान फेफडा में इंफेक्शन होने से बंगलोर आर्मी अस्पताल में हुई मौत



सिमरिया:  थाना क्षेत्र के बन्हे गांव निवासी सेवानिवृत्त शिक्षक प्रदुमन सिंह के छोटे पुत्र आर्मी जवान मनोज कुमार सिंह का पार्थिव शरीर उनके घर लाने पर परिवार में कोहराम मच गया। आर्मी जवान मनोज कुमार सिंह बीमारी से मौत को मात  देने में सक्षम नही  हो पाये। उन्होंने आर्मी अस्पताल बंगलौर में इलाज के दौरान सोमवार को अंतिम सांस ली थी। फिलहाल बेंगलोर में ही ड्यूटी के दौरान फेफड़ा में इंफेक्शन होने के कारण कुछ दिन पहले आर्मी अस्पताल में भर्ती कर इलाज शुरू किया गया था। सीमा पर दुशमनो को धुल चटाने वाले मनोज बीमारी को मात नही दे पाये। बुधवार देर शाम सेना के जवान उनका पार्थिव शरीर उनके गांव बन्हें लेकर पहुंचे तो परिवार में कोहराम मच गया। गुरुवार को  स्थानीय नदी घाट मे सैनिक सम्मान के साथ उन्हें अंतिम विदाई दी गई। इस दौरान लोगों ने उनके पार्थिव शरीर पर श्रद्धा सुमन अर्पित किया।



 मौके पर लोग जवान के सम्मान में देशभक्ति नारे लगाते रहे। फोटीन ग्रेनेडियर बटालियन रांची और आर्मी के जवानों ने अधिकारी विक्रम सिंह एवं महमूद खान के नेतृत्व में इक्कीस सैनिकों ने सैनिक नियमों से गार्ड ऑफ ऑनर दिया गया। सैनिकों ने जवान के पार्थिव शरीर के साथ आये तिरंगे को उनके पिता को सुपुर्द किया। जवानों के द्वारा फायरिंग कर अंतिम सलामी देने के बाद परिजनों के द्वारा अंत्येष्टि हुई। इस मौके पर सिमरिया विधायक किशुन दास, आजसू  के मनोज चंद्रा, अशोक शर्मा, नंदकिशोर सुलभ, अच्छैवट सिंह, सुधीर सिंह, रामनारायण सिंह, आलोक रंजन, महेन्द्र सिंह, अमित कुमार, पूर्व सैनिक वेलफेयर ट्रस्ट एसोसिएशन के प्रदेश अध्यक्ष अरविंद ओझा, जिला अध्यक्ष मोहन कुमार शाह, सचिव मिथलेश पांडेय, कोषाध्यक्ष उपकार सिंह, रितेश सिंह, राजेश कुमार, निर्मल सिंह, किशुन राम, अमृत साहू, दिलीप कुमार सिंह, रंजीत कुमार दांगी, रमन साहू, अमित कुमार दांगी, नरेश प्रसाद, दीपक कुमार, समेत बड़ी संख्या में लोग मौजूद रहे।

कोई टिप्पणी नहीं

बिहार खबर (SUBHAKAR MEDIA PRIVATE LIMITED) वेबसाइट पर कॉमेंट करने के लिए धन्यवाद।