Breaking News

मुंगेर में दर्दनाक हादसा, ट्रक-टेंपो की टक्कर में छात्र-छात्रा सहित 4 की मौत, ट्यूशन पढ़ने जा रहे थे सभी छात्र, गुस्साई भीड़ ने ट्रक को फूंका

 




एनएच 333 गंगटा-खड़गपुर पथ पर मंगलवार सुबह छह बजे नजरी गांव के समीप ट्रक और टेंपो की आमने-सामने की टक्कर में चार लोगों की मौत हो गई जबकि आधा दर्जन लोग जख्मी हैं। टक्कर इतनी जोरदार थी कि दो लोगों ने मौके पर ही दम तोड़ दिया । गंभीर घायल आठ लोगों को प्राथमिक उपचार के लिए खड़गपुर स्वास्थ्य केंद्र ले जाया गया जहां दो और लोगों की मौत हो गई। चार जख्मी को भागलपुर रेफर कर दिया गया, जबकि दो का इलाज खड़गपुर पीएचसी में किया जा रहा है।

घटना के बाद ट्रक का चालक भाग निकला जबकि उप चालक को लोगों ने पकड़ लिया। सूचना मिलने पर मौके पर पहुंची पुलिस ने उप चालक को अपने कब्जे में ले लिया। घटना से आक्रोशित ग्रामीणों ने ट्रक को आग के हवाले कर दिया। इसके बाद बाद ग्रामीणों ने गंगटा-खड़गपुर मार्ग को दो अलग-अलग जगहों पर जाम कर दिया। जाम के कारण लगभग छह घंटे तक एनएच-333 पर वाहनों की लंबी कतार लगी रही।

ग्रामीणों के अनुसार टेंपो मोहनपुर गांव से खड़गपुर जा रहा था। नजरी गांव के समीप ट्रक से टेंपो की टक्कर हो गयी। इसमें टेंपों पर सवार मोहनपुर निवासी 11वीं के छात्र ऋतिक कुमार और 11वीं की छात्रा सोनाली कुमारी की मौके पर ही मौत हो गई। जबकि मोहनुपर गांव के ही 12वीं के छात्र केशव कुमार और राय टोला निवासी चालक मनीष कुमार उर्फ चीकू मौत स्वास्थ्य केंद्र खड़गपुर में हो गई।

घटना के बाद परिजनों ने चारों शवों को बीच सड़क पर रखकर सड़क को पूरी तरह जाम कर दिया। घटना के बाद संभावित उपद्रव के मद्देनजर गंगटा थाना सहित अनुमंडल की पुलिस घटना स्थल पर कैंप करती रही। लगभग छह घंटे तक मौके पर अनुमंडल पदाधिकारी अमिताभ प्रसाद गुप्ता, अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी राकेश कुमार, इंस्पेक्टर नईमुद्दीन, गंगटा थाना अध्यक्ष मजहर मकबूल समेत हवेली खड़गपर प्रखंड के अन्य पदाधिकारी व पुलिस रुके रहे। बाद में तारापुर के विधायक राजीव कुमार सिंह के वहां पहुंचने और विधायक समेत अनुमंडल के अधिकारियों के ग्रामीणों एवं परिजनों को मृतकों के आश्रितों को पांच-पांच हजार रुपये देने, मुख्यमंत्री परिवार कल्याण योजना के 20 हजार रुपए तत्काल देने एवं कबीर अंत्येष्टि के तहत तीन हजार समेत 23-23 हजार रुपए नगद देने के आश्वासन पर ग्रामीणों ने जाम हटाया।

इधर घटना के संबंध में मृतक ऋतिक कुमार के पिता पप्पू शर्मा ने गंगटा थाने में आवेदन दिया दिया है जिसमें चालक चालक एवं वाहन पर प्राथमिकी दर्ज कराई है। दूसरी ओर गंगटा पुलिस ने भी ट्रक को आग के हवाले किए जाने को लेकर एक प्राथमिकी दर्ज की है।

तेज रफ्तार के कारण दुर्घटना हुई। खड़गपुर-गंगटा सड़क संकीर्ण है और दोनों तरफ घनी आबादी है। दुर्घटना को रोकने के लिए रंबल और ब्रेकर लगाये जाएंगे। इसके लिए एनएचएआई के अफसर के साथ ऐसे ब्लैक स्पॉट को चिह्नित किया जाएगा ताकि आये दिन इस क्षेत्र में होने वाली दुर्घटनाओं को रोका जा सके।
- राकेश कुमार, एसडीपीओ, हवेली खड़गपुर

कोई टिप्पणी नहीं

बिहार खबर (SUBHAKAR MEDIA PRIVATE LIMITED) वेबसाइट पर कॉमेंट करने के लिए धन्यवाद।