Breaking News

टीकाकरण महाअभियान की सफलता के लिये पूरे जिले में सघन प्रचार अभियान का हुआ संचालन

 



माइकिंग, जनसंपर्क व रैली के माध्यम से दूसरे डोज के टीकाकरण के लिये किया गया लोगों को प्रेरित: 

डीडीसी की अध्यक्षता में हुई बैठक में अभियान को लेकर तैयारियों की हुई समीक्षा: 


अररिया, 15 सितंबर। 

जिले में आगामी 17 सितंबर को संचालित विशेष टीकाकरण अभियान की सफलता को लेकर पूरे जिले में बुधवार को सघन प्रचार अभियान का संचालन किया गया। आशा कार्यकर्ता, आंगनबाड़ी कर्मियों के सहयोग से जहां विभिनन प्रखंडों में जागरूकता रैली निकाली गयी। वहीं धार्मिक संस्थानों से भी माइकिंग के जरिये लोगों को आगामी अभियान की जानकारी देते हुए दूसरे डोज के टीकाकरण के लिये प्रेरित किया गया। इसके अलावा स्वास्स्थ्य अधिकारी व कर्मी दिन भर लगातार लोगों से सीधा संपर्क स्थापित करते हुए उन्हें टीकाकरण के लिये प्रेरित करते नजर आये। वहीं जिला पंचायती राज, जीविका व शिक्षा विभाग सहित स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी व कर्मी संबंधित तैयारियों को अंतिम रूप देने की कोशिशों में जुटे दिखे। अभियान को लेकर की जा रही तैयारियों की समीक्षा को लेकर डीडीसी मनोज कुमार की अध्यक्षता में वीडियो कांफ्रेसिंग के माध्यम से संबंधित अधिकारियों की बैठक देर शाम आयोजित की गयी। 



मोबिलाइजेशन संबंधी गतिविधियों को प्रभावी बनाने की जरूरत: डीडीसी

अधिकारियों के साथ तैयारियों की समीक्षा करते हुए डीडीसी मनोज कुमार ने कहा कि अभियान के सफल संचालन को लेकर टीका का पर्याप्त डोज जिले को उपलब्ध कराया जा रहा है। अभियान से पूर्व आशा व जीविका कर्मियों को दूसरे डोज से वंचित लोगों का डाटाबेस तैयार करने को कहा गया। ताकि लाभुकों का सही आकलन किया जा सके। डीडीसी ने कहा कि बीते 21 जून को आयोजित अभियान के दौरान सत्र संचालन के लिये चिह्नित स्थलों पर दोबारा सत्र का संचालन किया जाना है। ताकि अभियान के तहत टीका का पहला डोज लेने वाले लोगों को दूसरा डोज का टीका लेने में आसानी हो। उन्होंने कहा कि संबंधित विभागों के बीच सत्र संचालन से जुड़ी सूचना साझा किया जाये। ताकि मोबिलाइजेशन संबंधी गतिविधियों को ज्यादा प्रभावी बनाया जा सके। उन्होंने कहा कि सत्र का संचालन सुबह 07 बजे से शाम 06 बजे तक किया जाना है। निर्धारित समय तक टीकाकर्मी सत्र स्थलों पर डटे रहेंगे। साथ ही सत्र स्थलों पर वैक्सीन की पर्याप्त उपलब्धता बरकरार रखने के लिये अतिरिक्त इंतजाम किये जा रहे हैं। कोविन पोर्टल पर लाभुकों के डाटा संधारण का कार्य ससमय पूरा करने के लिये जिला प्रशासन के स्तर से भी कर्मी उपलब्ध कराये जाने की बात उन्होंने कही। जानकारी देते हुए उन्होंने बताया कि 14 सितंबर तक जिले में दूसरे डोज से वंचित लोगों की कुल संख्या 96375 है. इसमें 2458 स्वास्थ्य कर्मी, 297 फ्रंटलाइन वर्कर व 18 साल से अधिक आयु वर्ग के लोगों की संख्या 93620 है. 



सामूहिक सहयोग से शत-प्रतिशत सफल होगा अभियान: सिविल सर्जन 

सिविल सर्जन अररिया डॉ एमपी गुप्ता ने कहा कि अभियान की सफलता के लिये जरूरी तैयारियां पूरी कर ली गयी हैं । क्षेत्र में व्यापक पैमाने पर जन जागरूकता अभियान का संचालन किया जा रहा है। एक अधूरा दो से टीकाकरण के पूर्ण होने का संदेश विभागीय अधिकारी व कर्मी जन-जन तक पहुंचाने के प्रयास में जुटे हैं। उन्होंने सामूहिक सहयोग से अभियान के शतप्रतिशत सफल होने का भरोसा दिलाया। उन्होंने कहा कि अभियान के तहत एक लाख से अधिक लोगों को कोरोना का टीका लगाने का लक्ष्य है। इसमें प्राथमिकता के आधार पर दूसरे डोज का टीकाकरण संपन्न कराया जाना है।  



अभियान के सफल संचालन को लेकर किये गये अतिरिक्त इंतजाम: डीपीएम 

डीपीएम स्वास्थ्य रेहान अशरफ ने कहा कि 17 सितंबर को आयोजित अभियान की सफलता के लिये कई विशेष इंतजाम किये गये हैं। टीका की कमी की समस्या से निपटने के लिये पीएचसी स्तर पर अतिरिक्त मानव बल तैनात किये जायेंगे। सत्र स्थलों के अतिरिक्त पीएचसी स्तर पर भी ससमय डाटा संधारण का कार्य संपादित करने के लिये डाटा इंट्री ऑपरेटर तैनात किये जायेंगे। इतना ही नहीं आयोजित महाअभियान की सफलता में संलग्न पदाधिकारी, कर्मी, वाहन चालक, वैक्सीनेटर, वेरिफायर को भोजन मद में 150 रुपये की राशि प्रदान किये जाने का इंतजाम किया गया है। विश्वकर्मा पूजा के दिन विशेष परिस्थितयों में काम करने के लिये वाहन चालकों को 100 रुपये नगद भुगतान का प्रावधान किया गया है।

कोई टिप्पणी नहीं

बिहार खबर (SUBHAKAR MEDIA PRIVATE LIMITED) वेबसाइट पर कॉमेंट करने के लिए धन्यवाद।