Breaking News

बिहार में तीन महीने का एक साथ मिलेगा फ्री अनाज, जानिए कहां और कब से दिया जाएगा खाद्यान्न

 



कोरोना वायरस के चलते बंद हुए सरकारी स्कूलों को खोल दिया गया है, लेकिन स्कूलों में अभी पढ़ाई नहीं होगी। बच्चों के भी स्कूल आने पर पाबंदी लगाई गई है। इसके चलते बिहार सरकार ने बच्चों को दिए जाने वाले मिड-डे मील को बांटने का फैसला लिया है। सोमवार से बिहार के सरकारी स्कूलों में अभिभावकों को एक साथ तीन महीने का अनाज देना शुरू हो गया है। शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव संजय कुमार ने इस संबंध में सभी जिला शिक्षा पदाधिकारी और मध्याह्न भोजन योजना के डीपीओ को पत्र भी भेज दिया है।

अपर मुख्य सचिव ने अपने पत्र में उल्लेख किया है कि कोविड-19 संक्रमण के कारण शैक्षणिक संस्थान बंद चल रहे हैं। इस वजह से मध्याह्न भोजन योजना का संचालन भी बंद है। उन्होंने बताया कि कई जिलों के जिला कार्यक्रम पदाधिकारी ने बताया है कि सीएफसी के गोदाम में माध्याह्न भोजन योजना का खाद्यान्न मौजूद है। अनाज का उठाव नहीं होने के चलते दूसरी योजनाओं का खाद्यान्न रखने में समस्या हो रही है। राज्य खाद्य निगम के प्रबंधक लगातार अनाज उठाव का अनुरोध कर चुके हैं।

साथ ही बच्चों के मध्याह्न भोजन योजना का अनाज अधिक समय तक विद्यालय अथवा राज्य खाद्य निगम के गोदाम में रखने और बरसात के मौसम की वजह से अनाज खराब होने की संभावना है। ऐसे में सरकार ने निर्णय लिया है कि 21 जून 2021 से सभी सरकारी स्कूल के प्रधानाध्यापक उपस्थित होकर कक्षा एक से लेकर आठ तक में पढ़ने वाले छात्रों के अभिभावकों के बीच अनाज का वितरण कराना सुनिश्चित करेंगे। बिहार में कोरोना के कारण स्कूलों को खोलने पर सरकार की तरफ से कोई फैसला नहीं लिया गया है। स्कूल बंद होने के कारण मध्याह्न भोजन योजना भी बंद है। 

कोई टिप्पणी नहीं

बिहार खबर (SUBHAKAR MEDIA PRIVATE LIMITED) वेबसाइट पर कॉमेंट करने के लिए धन्यवाद।