Breaking News

कोरोना संक्रमण में वृद्धि एवं प्रसार को लेकर जिलाधिकारी ने संदेश जारी कर जिलावासियों से अपील की।



-जिलावासियों से मास्क लगाने एवं टीकाकरण के लिए  डीएम ने की अपील


किशनगंज, 24  अप्रैल।

जिले में कोरोना संक्रमण में प्रतिदिन अप्रत्याशित वृद्धि एवं प्रसार के संदर्भ में जिला पदाधिकारी डॉ आदित्य प्रकाश ने संदेश जारी कर जिलावासियों से अपील की है। जिलाधिकारी ने अपने सन्देश में जिलावासियों से अपील करते हुए कहा अभी भी जिले में कोरोना संक्रमण की स्थिति काफी दयनीय बनी हुई है। सभी लोगों से अनुरोध है सरकार एवं जिला प्रशासन द्वारा जारी गाइडलाइन का पालन करें। भीड़–भाड़ वाले स्थानों पर जाने से बचें। यदि आवश्यक कार्य से घर से बाहर जाना पड़े तो मास्क पहनकर ही जाएं, कोविड प्रोटोकॉल का पालन करें तथा कार्य समाप्त होने पर शीघ्र अपने घर लौट जाएं। जिले में कोरोना संक्रमण की अद्यतन स्थिति की जानकारी देते हुए इस संक्रमण की रोकथाम एवं बचाव हेतु एहतियात बरतने की अपील जिलाधिकारी ने पुनः जिलावासियों से की है। जिले में संक्रमण दिन व दिन बढता जा रहा है। शनिवार को भी जिले में 94 व्यक्ति संक्रमित हुए है। वही  कोविड-19 संक्रमण वायरस को जड़ से मिटाने के लिए जिले में दो दिन शनिवार एवं रविवार को आवश्यक सेवा को छोडकर सभी दुकानों को पूर्णतः बंद कर दिया गया है जिससे संक्रमण की चेन टूट सके। वही पूरे जोर-शोर से  चौथे चरण का वैक्सीनेशन महाअभियान जारी है। जिसे गति देने में स्वास्थ्य विभाग एवं जिला प्रशासन ने अपनी पूरी ताकत झोंक दी है। अगले चरण में 01 मई से 18 वर्ष के ऊपर सभी व्यक्तियों का भी वैक्सीनेशन किया जायेगा। जिसके लिए जिला प्रशासन एवं स्वास्थ्य विभाग की पूरी कोशिश है कि एक भी लोग वैक्सीन लगवाने से वंचित नहीं रहें। जिससे कोविड-19 संक्रमण को जड़ से मिटाया जा सके।


माइक्रो कंटेन्मेंट जोन के सभी व्यक्ति जांच अवश्य कराये: डीएम

जिला पदाधिकारी डॉ आदित्य प्रकाश ने बताया जिले में कुल 54 माइक्रो कंटेन्मेंट जोन बनाये गये है। जहां आमजनों से यह भी कहा  जहां  संक्रमित व्यक्ति का पता चले उसके निकट के 10-20 घरो के लोग अपनी जांच अवश्य कराये जिससे संक्रमण के फैलाव को रोका जा सके। जिला पदाधिकारी डॉ आदित्य प्रकाश ने कहा सबसे ज्यादा संक्रमण प्रभावित मरीज नगर परिषद, किशनगंज क्षेत्र का है। शनिवार को 98 नए मरीजों के साथ ही संक्रमित मरीजों की संख्या 635 हो चुकी है। हालांकि, अब तक 39 लोग कोरोना से पूरी तरह ठीक हो चुके हैं। नगर परिषद क्षेत्र, किशनगंज में 430, किशनगंज  ग्रामीण क्षेत्र में 13, दिघलबैंक में 13, ठाकुरगंज में 23, बहादुरगंज में 25, पोठिया में 10, टेढ़ागाछ में 16, कोचाधामन में 15 तथा प्रवासी 80 व्यक्ति संक्रमित व्यक्ति  है। वही जिले में कुल 54 कन्टेनमेंट जोन बनाये गये हैं। जिसमें से किशनगंज शहरी छेत्र  में 43, बहादुरगंज में 02, किशनगंज ग्रामीण 01, कोचाधामन 03, ठाकुरगंज 05 माइक्रो कंटेनमेंट जोन सक्रिय है। जिले के कुल 70514 व्यक्तियों का प्रथम डोज़ एवं 16343 व्यक्तियों को दूसरा डोज़ टीकाकरण किया गया है वही अब तक कुल 3.92 लाख लोगों की कोरोना जांच हो सकी है। इसमें 5334 लोगों में संक्रमण की पुष्टि हुई है तो 4683 लोग संक्रमण से जुड़ी चुनौती को मात देकर पूरी तरह स्वस्थ हो चुके हैं। जिले में संक्रमण की दर 1.4 है तो वही रिकवरी दर 87.8 के करीब है। संक्रमण के प्रसार की संभावना बनी हुई है। लिहाजा जिला स्वास्थ्य विभाग ने सभी संबंधित स्वास्थ्य संस्थानों को अलर्ट किया है।


-कोविड-19 से स्थाई निजात का एकमात्र उपाय है वैक्सीन, इसलिए वैक्सीनेशन से नहीं करें परहेज:

जिला पदाधिकारी ने कहा  कोविड-19 से स्थाई निजात का एकमात्र उपाय वैक्सीन ही है। इसलिए, वैक्सीनेशन से परहेज नहीं करें, बल्कि उत्साह के साथ वैक्सीनेशन कराएं। इससे आप तो स्वस्थ होंगे ही साथ ही आपका परिवार और समाज भी सुरक्षित रहेगा। वर्तमान में जिला अंतर्गत 118 सेशन साइट पर टीकाकरण का कार्य किया जा रहा है। लक्षित समूह के इन टीकाकरण केन्द्रों पर जाकर टीकाकरण कराने का अनुरोध जिलाधिकारी ने किया। टीकाकरण के बाद भी सावधान रहने की सलाह जिलाधिकारी ने दी। कहा यह सभी की व्यक्तिगत जवाबदेही है कि सावधान रहें, सतर्क रहें। तभी हम सब मिलकर इस महामारी पर विजय पा सकेंगे



कोविड-19 से बचाव के लिए इन बिंदुओं पर विशेष ध्यान:

•मास्क का प्रयोग अवश्य करें।

•हाथों को बार-बार पानी और साबुन से धोएं या सैनिटाइज करें।

•सहयोगियों से परस्पर दो गज की दूरी बनाकर रखें।

•आगंतुकों से मिलते समय भी परस्पर दूरी रखें और बाचतीत के दौरान भी मास्क का प्रयोग आवश्यक है।

•कार्य के दौरान अति आवश्यक वस्तु को ही छुए।

सहकर्मियों से बात करें, अपने मानसिक स्वास्थ्य का ख्याल रखें और तम्बाकू उत्पादों का सेवन न करें जिन्दगी चुने तम्बाकू नहीं।


कोविड-19 सेसंक्रमित व्यक्ति के लिए होम आइसोलेशन के नियम:

-संक्रमित व्यक्ति के घर में होम आइसोलेशन के दौरान परिवार से अलग और उचित दूरी पर रहने की सभी सुविधाएं मौजूद हों। 


-इसके साथ ही होम आइसोलेशन के दौरान संक्रमित व्यक्ति की देखभाल करने के लिए 24 घटें और सातों दिन कोई व्यक्ति उपलब्ध रहना चाहिए। देखभाल करनेवाले व्यक्ति और जिस हॉस्पिटल से मरीज़ का इलाज चल रहा है, उसके बीच लगातार संपर्क रहना चाहिए। जब तक कि होम आइसोलेशन की अवधि तय की गई है।

 

-मरीज को होम आइसोलेशन के दौरान हर समय तीन लेयर वाला फेसमास्क पहने रहना चाहिए। हर 8 घंटे में इस मास्क को बदल दें। अगर आपको लगता है कि पसीने के कारण मास्क गीला हो गया है या धूप-मिट्टी के कारण गंदा हो गया है तो इसे तुरंत बदल लें।


-आइसोलेशन के दौरान मरीज को केवल एक तय कमरे में ही रहना चाहिए। साथ ही परिवार के सभी लोगों से दूर रहना चाहिए तथा सारी व्यवस्था भी अलग होनी चाहिए।

कोई टिप्पणी नहीं

बिहार खबर वेबसाइट पर कॉमेंट करने के लिए धन्यवाद।