Breaking News

जीतन राम मांझी का बिहार के CM नीतीश कुमार को लिखा पुराना पत्र वायरल, 'आप पूर्व मुख्यमंत्री ना हों'

 


 पटना: हिंदुस्तान अवाम पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी का मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को लिखा एक पुराना पत्र वायरल हुआ है, जिसमें मांझी ने पूर्व मुख्यमंत्रियों के लिए सुविधाएं बढ़ाने की मांग की थी। कुछ महीने पहले के इस पत्र की शुरुआत में लिखा है, 'मेरी कामना है कि आप पूर्व मुख्यमंत्री नहीं हों, पर पूर्व मुख्यमंत्रियों की जो सुविधाएं उपलब्ध थीं वह न्यायालय के आदेश के कारण रद्द कर दी गई हैं। इससे पूर्व मुख्यमंत्रियों को काफी परेशानी हो रही और जान-माल का खतरा भी बना रहता है।' पार्टी प्रवक्ता अमरेंद्र कुमार त्रिपाठी ने बताया कि सीएम नीतीश कुमार को लिखा गया ये पत्र कुछ महीने पुराना है, जिसे किसी ने वायरल कर दिया है। 

मांझी ने रखा था अपनी छह मांगों का प्रस्ताव

पत्र में जीतन राम मांझी ने मुख्यमंत्री के समक्ष अपनी छह मांगों का प्रस्ताव रखा था। इसमें सभी पूर्व मुख्यमंत्रियों को कम से कम 15 वर्ष तक मुफ्त आवासीय सुविधा देने,  सुरक्षा में विशेष सुरक्षा दल को नहीं हटाने, दूसरे राज्यों के मुख्यमंत्रियों की तरह बिहार में भी जेड प्लस की श्रेणी की सुरक्षा सुविधा उपलब्ध कराने, पूर्व मुख्यमंत्रियों को कम से कम पांच लाख रुपये तक रेलवे एवं हवाई जहाज की यात्रा सुविधा देने और आजीवन स्वास्थ्य खर्च राज्य सरकार द्वारा वहन करने की मांग की थी।

मुफ्त आवासीय सुविधा देना संभव न हो तो...

मांझी ने लिखा था कि अगर मुफ्त आवासीय सुविधा देना संभव नहीं हो तो निजी आवास का मकान किराया, बिजली बिल, टेलीफोन बिल और नगर निगम के टैक्स आदि से मुक्त रखा जाए या इसका भुगतान सरकार की ओर से किया जाए। काफी दिन पहले लिखे पत्र में उन्होंने सीएम नीतीश कुमार से इन मांगों पर ठोस निर्णय लेने की मांग की थी।

कोई टिप्पणी नहीं

बिहार खबर वेबसाइट पर कॉमेंट करने के लिए धन्यवाद।