Breaking News

मोतिहारी के मुफस्सिल थाने के दारोगा का शव उनके क्र्वाटर में मिला

 


मुफस्सिल थाने में पदस्थापित दारोगा त्रिलोकी नाथ राय की मौत उनके क्वार्टर में ही हो गयी। वे गोपालगंज जिले के हथुआ थाने के सुहाजपुर गांव के निवासी थे। रात में अपने कमरा में सोये तो सोये ही रह गये। सुबह दरवाजा नहीं खोलने पर आसपास क्र्वाटर में रह रहे पुलिस अधिकारियों ने आवाज लगायी तो कोई रिस्पांस नहीं। दूसरे दरवाजा से जाने पर देखा गया कि बेड पर अचेत पड़े हैं। इलाज के लिये सदर अस्पताल ले जाया गया जहां डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया। पुलिस लाइन में एसपी नवीन चन्द्र झा समेत अन्य पुलिस अधिकारियों ने श्रद्धांजलि दी। शोक सलामी भी दी गयी। पूरी सुरक्षा व सम्मान के साथ शव को उनके पैतृक गांव गोपालगंज पहुंचाया गया। एसपी श्री झा ने बताया कि शव का पोस्टमार्टम कराया गया। वेसरा रिजर्ब कराया गया है। मौत के कारण का पता नहीं चल पाया है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद मौत के कारण का पता चलेगा। एसएचओ रोहित का कहना है कि उनके साथ पत्नी मीरा देवी व पौत्री साक्षी रहती थी। चैती छठ होने के कारण एक दिन पूर्व पत्नी गांव पर चली गयी थी। क्र्वाटर में टीएन राय के कमरा के बगल में पौत्री सोयी थी। आठ बजे तक जब उनका दरवाजा नहीं खुला तो आसपास के लोगों ने आवाज दी। आवाज पर पौत्री उठी । वह भी कहने लगी दादा बड़ी लेट तक सोये रह गये। सभी मिलकर आवाज देने लगे लेकिन कोई रिस्पांस नहीं हुआ। वे काफी व्यवहार कुशल अधिकारी थे। अपने काम के प्रति भी जिम्मेवार थे। श्रद्धांजलि सभा में एएसपी शैशव यादव, सदर डीएसपी अरुण कुमार गुप्त, पुलिस उपाधीक्षक रक्षित रमेश कुमार साव, नगर इंस्पेक्टर विजय प्रसाद राय, छतौनी इंस्पेक्टर नित्यानंद चौहान, तकनीकी शाखा प्रभारी मनीष कुमार, पीपराकोठी एसएचओ अभिनव दुबे, रघुनाथपुर ओपी प्रभारी कंचन भास्कर आदि पदाधिकारी व पुलिस जवान श्रद्धांजलि सभा में शामिल हुए।

कोई टिप्पणी नहीं

बिहार खबर वेबसाइट पर कॉमेंट करने के लिए धन्यवाद।