Breaking News

पत्नी भागी तो फेसबुक पर पति ने लिखा- मैं जीना नहीं चाहता, पुलिस की काउंसिलिंग के बाद लिया ये फैसला

 


आई एम सो सैड। कुछ गलती हुई हो तो आप सभी दोस्त मुझे माफ करना। अलविदा मेरे दोस्त, मुझे मिस करना आप सभी कोई। इशाकचक के रहने वाले ऋषिदेव ने बुधवार को फेसबुक पर यही पोस्ट किया। इसके बाद उसने लिखा, आज की रात मेरी आखिरी रात है दोस्त, क्योंकि अब मुझे जिंदगी जीने का मन नहीं करता।

कुछ गलती हुई हो तो हमें माफ करना। उसके पोस्ट पर पुलिस की नजर पड़ी। उसे खोजने की कोशिश हुई तो एएसपी सिटी पूरन झा को उसका मोबाइल नंबर भी मिल गया। इसके बाद ऋषिदेव की उसके पिता के सामने तिलकामांझी थाना में काउंसलिंग की गयी। युवक ने अपना इरादा बदला और बुधवार की रात ही पुलिस को थैंक्स कह थाने से घर चला गया।

पत्नी छोड़ गयी इसलिए डिप्रेशन में चला गया 
पुलिस की काउंसलिंग के दौरान युवक ने बताया कि वह एक लड़की के साथ भाग गया था। उस मामले में लड़की के परिजन ने पुलिस में शिकायत की तो लड़की और वह वापस लौटे और लड़की ने बयान दिया कि वह अपनी मर्जी से गयी थी। केस खत्म हो गया। इसके बाद फिर दोनों भाग निकले और शादी कर ली। तिलकामांझी में वह किराये के मकान में रहने लगे। युवक ने पुलिस को बताया कि वह लड़की उससे शादी के बाद फिर किसी और के साथ भाग निकली। उसके भाग जाने से वह डिप्रेशन में आ गया। उधर, पुलिस को सूचना मिली है कि लड़की ने युवक पर प्रताड़ित करने का आरोप लगाया था। इसके बाद वह भाग निकली थी।

बहरहाल, ऋषिदेव की जो भी कहानी हो पर बुधवार को फेसबुक पर उसकी जिंदगी से निराश होने के पोस्ट के बाद पुलिस की सक्रियता उसे डिप्रेशन से वापस ले आयी। एएसपी पूरन झा के अलावा इशाकचक इंस्पेक्टर एसके सुधांशु, तिलकामांझी थानाध्यक्ष राजरतन, जोगसर थानाध्यक्ष अजय कुमार अजनबी ने ऋषिदेव की काउंसलिंग की, जिसके बाद उसने अपना इरादा बदला। एएसपी सिटी ने बताया कि पहले पोस्ट देखा उसके बाद कोशिश की गयी तो उसका कॉन्टैक्ट नंबर मिला, जिसके बाद उसे बुलाकर बातचीत कर समझाया गया।

कोई टिप्पणी नहीं

बिहार खबर वेबसाइट पर कॉमेंट करने के लिए धन्यवाद।