Breaking News

बिहार: बेनीपट्टी नरसंहार के आरोपियों के घरों में लगाई आग, करणी सेना ने किया पटना घेरने का ऐलान

 


बिहार के मधुबनी जिले के बेनीपट्टी थाना क्षेत्र के महमदपुर गांव में होली के दिन हत्याकांड के तीन आरोपियों के घरों में असामाजिक तत्वों ने आग लगा दी। यह हमला करनी सेना के पीड़ितों के घर आने से कुछ देर पहले हुआ। उधर पीड़ितों से मिलने पहुंची करणी सेना ने पटना घेरने का ऐलान कर दिया है। 

राजपूत करनी सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष महिपाल सिंह ने कहा कि महमदपुर में नरसंहार हुआ है। यदि शीघ्र ही पीड़ित परिजनों को न्याय नहीं मिला तो हम पटना को घेरेंगे। इसके लिए जल्द ही निर्णय लिया जाएगा। बेनीपट्टी के महमदपुर में एक ही परिवार के तीन भाइयों समेत पांच की हत्या मामले के पीड़ित परिजनों से मिलने के बाद पत्रकारों से बातें करते ये बातें कहीं।

उन्होने कहा कि न्याय के लिए फास्ट ट्रैक के तहत हत्यारों को शीघ्र सजा दी जाय। मृतक के परिजनों को एक-एक करोड़ मिले। परिजनों को सरकारी नौकरी दी जाय। उन्होंने कहा कि इलाजरत मनोज सिंह को  दिल्ली शिफ्ट करने की जरूरत है।  सरकार को इस खर्च को उठाना चाहिए। यदि सरकार नहीं करती है तो करनी सेना इस खर्च को उठाएगी। उन्होंने कहा  कि यदि सरकार ऐसा नही करेगी तो हमलोग आज यही तय करने के लिए महमदपुर आये हैं कि हमें क्या करना है।

पीड़ितों को न्याय दिलाने आये हैं महमदपुर
हम शांति प्रिय लोग हैं। ओम शांति के लिए ही महमदपुर आये हैं। पर इस शांति को यदि कमजोरी समझा गया तो सरकार ऐसी भूल नहीं करें।  हम बहुत जवाब देना जानते हैं।  महमदपुर में पीड़ित परिजनों से मिलने के बाद करनी सेना के संस्थापक सदस्य लोकेंद्र सिंह काल्वी ने पत्रकारों से ये बातें कही। उन्होंने कहा कि आज हम पीड़ित परिजनों से मिलने आये हैं। महापंचायत के लिए नहीं। उन मृतआत्मा को श्रद्धांजलि देने आये हैं। उन छोटे-छोटे बच्चों की परवरिश के बारे में जानने आये हैं। महापंचायत किसी और दिन होगा।  उन्होने कहा कि जो सब करते हैं वह हम नहीं करते हैं। जो कोई नहीं करते हैं वह हम करते हैं। थोड़ा इंतजार कीजिये। 

आगजनी की घटना
पुलिस ने बताया कि बदमाशों के दो अलग-अलग गुटों हत्याकांड के आरोपी प्रवीण झा उर्फ ​​रावण, नवीन झा और भोला सिंह के घरों को आग लगा दी। एक ही गांव में पांचों हत्याओं की वजह से भड़के लोगों ने आगजनी की घटना की। हालांकि, घर में लेख, फर्नीचर और कपड़े पूरी तरह से बंद थे। प्रत्यक्षदर्शी ने पुलिस को फोन करके घटना की सूचना दी। इसके बाद मौके पर पहुंचे दमकल की गाड़ियों ने आग बुझाई। पुलिस ने कहा कि लोकेंद्र सिंह के नेतृत्व में करणी सेना के समर्थकों के महमदपुर गांव में पीड़ितों के घर पहुंचकर श्रद्धांजलि देने से कुछ मिनट पहले गैबीपुर और पय्याम गांव में आगजनी की घटनाएं हुईं।   

कोई टिप्पणी नहीं

बिहार खबर वेबसाइट पर कॉमेंट करने के लिए धन्यवाद।