Breaking News

पटना में इंडिगो स्टेशन मैनेजर रूपेश हत्याकांड के फरार आरोपित की संपत्ति होगी कुर्की-जब्ती

 


पटना में इंडिगो मैनेजर रूपेश सिंह हत्याकांड के मामले में अब तक चौथा आरोपित मो. बऊआ को पुलिस पकड़ नहीं सकी है। वह पटना का रहने वाला है। उसकी गिरफ्तारी के लिए पुलिस ने सोमवार को पटना सिटी में छापेमारी की लेकिन वह पकड़ा नहीं जा सका।

दरअसल, पुलिस को सूचना मिली थी कि वह पटना सिटी इलाके में ही छिपा हुआ है। इस पर पुलिस ने छापेमारी की। हालांकि उसे गिरफ्तार नहीं किया जा सका है। मो. बऊआ ही अब इस हत्याकांड का अंतिम आरोपित है। उसके पकड़े जाने के बाद पुलिस भी जल्द ही चार्जशीट दायर कर देगी। इस मामले में पुलिस के पास आरोपित रितुराज, सौरव व पुष्कर के खिलाफ पर्याप्त साक्ष्य है। इन सबूतों के जरिये पुलिस चार्जशीट करने की तैयारी पूरी कर ली है।

 इस मामले में रोडरेज के अलावा कोई अन्य कारण सामने नहीं आया है। खास बात यह कि इस मामले का स्पीडी ट्रायल होगा, ताकि आरोपितों को जल्द से जल्द सजा मिल सके। बता दें कि हाल ही में पुलिस ने सौरव व पुष्कर को रिमांड पर लिया था और पूछताछ की थी। इन दोनों ने ही बऊआ के कई ठिकानों की जानकारी पुलिस को दी थी। शास्त्रीनगर थाना प्रभारी रामशंकर सिंह ने बताया कि बौआ की गिरफ्तारी के लिए उसके संभावित ठिकानों पर छापेमारी की जा रही है। पुलिस मो. बऊआ की संपत्ति कुर्की-जब्ती की कार्रवाई के लिए प्रयासरत है। गिरफ्तारी वारंट हासिल करने के बाद इश्तेहार के लिए आवेदन दे दिया है। इश्तेहार का आदेश भी पुलिस को एक-दो दिनो में हासिल हो जाने की संभावना है। इश्तेहार मिलते ही उसकी संपत्ति की कुर्की जब्ती की जाएगी।

कोई टिप्पणी नहीं

बिहार खबर वेबसाइट पर कॉमेंट करने के लिए धन्यवाद।