Breaking News

बिहार के बेतिया में मेडिकल स्टाफ के होते बीडीओ ने क्यों लगाई मुखिया को वैक्सीन? जानें पूरी स्टोरी

 


बिहार में कोरोना संक्रमण रोजाना नए रिकॉर्ड बनाने में लगा है। कोरोना के सेकेंड वेव के कहर के चलते प्रदेश में लगातार दूसरा दिन है जब 3000 से ज्यादा कोरोना पॉजिटिव मिले हैं वहीं 6 मरीजों ने इलाज के दौरान अपना दम तोड़ा है। इस बीच बिहार में जारी टीका उत्सव को लेकर पश्चिम चंपारण जिले के बेतिया में एक कोरोना टीकाकरण का एक वीडियो सोशल मीडिया में वायरल हो रहा है। विडियो के मुताबिक पश्चिम चंपारण में एक बीडीओ(प्रखंड विकास पदाधिकारी PU) मेडिकल स्टाफ की भूमिका में नजर आ रहे हैं और बकायदा उन्होंने एक मुखिया को कोरोना का टीका भी लगाया।

जानकारी के मुताबिक दिख रहे इस वायरल वीडियो में चनपटिया प्रखंड के बीडीओ दीनबंधु दिवाकर एक मुखिया को कोरोना की वैक्सीन लगाते दिख रहे हैं। बताया जाता है कि अवरैया पंचायत के वैक्सीनेशन सेंटर पर कोरोना टीकाकरण अभियान टीका उत्सव का निरीक्षण करने पहुंचे दीनबंधु दिवाकर ने पंचायत के मुखिया को खुद अपने हाथों से मेडिकल टीम के रहते एक एक्सपर्ट की तरह टीका तैयार कर लगा दिया। जानकारी के मुताबिक बीडीओ दीनबंधु दिवाकर प्रखंड विकास पदाधिकारी बनने से पहले डॉक्टरी की पढ़ाई की है। 

इस संबंध में बीडीओ दीनबंधु दीवाकर ने बताया कि अवरैया पंचायत के लोगों को वैक्सीनेशन के प्रति जागरूक करने के लिए मुखिया के निवेदन पर उन्होंने वैक्सीन लगायी है। उन्होंने कहा कि वे नासिक के एक डेंटल कॉलेज से पढ़ाई की है। पढ़ाई के दौरान ही वे सरकारी नौकरी में आ गए। इधर मुखिया रंजन वर्मा ने बताया कि बीडीओ के वैक्सीनेशन के पीछे आम जनता को कोरोना से बचाव के लिए टीका लगवाने के प्रति जागरूक करना ही उद्देश्य था। मुखिया रंजन वर्मा ने बताया कि इलाके के ग्रामीण लोग टीकाकरण कराने से परहेज कर रहे थे। उनके मन में तरह-तरह की भ्रांतियां थी, जो इस टीका लगने के बाद से अब दूर हो गयी है। सूत्रों के अनुसार बीडीओ टीकाकरण का निरीक्षण करने प्रखंड के टीकाकरण केन्द्र पर पहुंचे थे। इसी दौरान वहां उन्हें मुखिया मिल गए। मुखिया ने उनसे टीका लगाने को कहा तो वे डॉक्टर की भूमिका में उतर गए।

कोई टिप्पणी नहीं

बिहार खबर वेबसाइट पर कॉमेंट करने के लिए धन्यवाद।