Breaking News

बिहार के समस्तीपुर में दर्दनाक हादसा, घर में लगी आग में जिंदा जल गई सो रही गर्भवती युवती


बिहार के समस्तीपुर में देर रात घर में लगी आग में झुलस जाने से जहां एक गर्भवती युवती की मौत हो गई वहीं घर समेत पूरा सामान जलकर राख हो गया। आग लगने का कारण शॉर्टसर्किट बतायी जा रही है। घटना जिले के सिंघिया प्रखंड की क्योटहर पंचायत के जिबुडीहली गांव में शनिवार रात की है। 

मृतका 22 वर्षीय साक्षी एक माह की गर्भवती थी। वह अपने पिता लालबाबू मुखिया के घर पिछले दिनों ही आई थी। घटना की सूचना मिलने पर सीओ संतोष कुमार और बीडीओ मनोरमा कुमारी गांव में पहुंची और मृतका के परिजनों को सरकारी प्रावधान के अनुसार सहायता उपलब्ध कराने का आश्वासन दिया। सीओ ने बताया कि घटना की जांच करने का कर्मचारी को आदेश दे दिया गया है। कर्मचारी की जांच रिपोर्ट और पोस्टमार्टम रिपोर्ट के आधार पर सहायता दी जाएगी। 

घटना के संबंध में परिजनों ने बताया कि गर्भवती होने पर एक माह पूर्व ही मायके आयी साक्षी एक कमरे में सो रही थी। उसी कमरे में रात में अचानक आग लग गई। घर के लोग जब तक जागते आग ने बगल के कमरे को भी अपने चपेट में ले लिया। उस कमरे में तीन बच्चों के साथ पांच लोग सोये हुए थे। गनीमत रही कि समय रहते सभी बाहर निकल गए। जिसके कारण सभी की जान बच गई। 

अगलगी की घटना की सूचना मिलते ही थाना अध्यक्ष पंकज कुमार अग्निशमन दल के साथ घटना स्थल पर पहुंच ग्रामीणों की मदद से काफी मशकत के बाद आग पर काबू पाया। जिसके बाद खोज करने पर साक्षी की 80 प्रतिशत जली लाश पुलिस ने बरामद की। बिजली की जली तार को देखने से प्रतीत हो रहा था कि बिजली के शार्टसर्किट के कारण आग साक्षी के बगल से उठी तथा करेंट लग जाने से उसकी मौत हो गई। जिसके कारण वो घर से भाग नही पाई जिससे पूरी तरह जल गई। पुलिस लाश का पंचनामा कर पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल समस्तीपुर भेज दिया है। थाना अध्यक्ष ने पंकज कुमार ने बताया कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट से इस बात का खुलासा हो पायेगा कि करंट लगने से मौत हुई या झुलसने से।

कोई टिप्पणी नहीं

बिहार खबर वेबसाइट पर कॉमेंट करने के लिए धन्यवाद।