Breaking News

बढ़ते संक्रमण को देख जिलाधिकारी की अध्यक्षता में बैठक हुई ,आक्सीजन की उपलब्धता, वितरण पर रखी जाएगी पैनी नज़र



- पॉजिटिव पाए जाने के तुरंत बाद मरीज को कोविड किट उपलब्ध कराएं 


- नोडल अधिकारियों को नियमित रूप से टीकाकरण, ऑक्सीजन सप्लाई, कंटेनमेंट जोन और अस्पतालों की रिपोर्ट देने को कहा 


किशनगंज, 26 अप्रैल।

बढ़ते संक्रमण को देख जिलाधिकारी डॉ आदित्य प्रकाश की अध्यक्षता में सोमवार को समाहरणालय सभाकक्ष में अहम बैठक हुई। बैठक में जिले में ऑक्सीजन की उपलब्धता एवं वितरण की समीक्षा की गई। साथ ही इस संबंध में सतत अनुश्रवण करने का निर्देश दिया गया। जिलाधिकारी ने ऑक्सीजन की उपलब्धता व उसके वितरण को लेकर संबंधित एजेंसियों और अस्पतालों पर निगरानी रखने का निर्देश दिया। साथ हीं इसमें किसी भी तरह की गड़बड़ी पाई जाती है तो तत्काल संबंधित पर प्राथमिकी दर्ज करने को कहा गया है। बैठक में विभिन्न कोषांग के पदाधिकारियों के साथ उनके कोषांग द्वारा किए जा रहे कार्यों के परिणाम और उसमें सुधार से संबंधित चर्चा हुई।जिलाधिकारी ने सभी नोडल अधिकारियों को नियमित रूप से टीकाकरण, ऑक्सीजन सप्लाई, कंटेनमेंट जोन और अस्पतालों में चिकित्सा कार्य का गहन निरीक्षण कर रिपोर्ट वरीय अधिकारी को सौंपने का आदेश दिया। जिलाधिकारी ने बताया जिला प्रशासन द्वारा सभी पंचायतों में प्रत्येक परिवार को 6 मास्क वितरित किया जा रहा है। इसपर निगरानी रखने को भी निर्देश दिया। बैठक में उप विकास आयुक्त, अपर समाहर्ता, अपर समाहर्ता आपदा प्रबंधन, सभी कोषांगों के नोडल पदाधिकारी, स्वास्थ्य विभाग के पदाधिकारी उपस्थित थे।


जिले में आक्सीजन पर्याप्त मात्र में उपलब्ध:

जिलाधिकारी डॉ आदित्य प्रकाश ने आक्सीजन को लेकर जिलावासियों से अपील करते हुए कहा किसी भी प्रकार के भ्रामक सूचना पर विश्वास न करें। जिले में ऑक्सीजन की पर्याप्त उपलब्धता है। जिला प्रशासन निजी अस्पतालों को भी ऑक्सीजन उपलब्ध करवाएगी। उन्होंने अधिकारियों को नए सिलिंडर खरीद कर पर्याप्त मात्रा में सिलिंडर उपलब्ध कराने का निर्देश दिया। ऑक्सीजन की सप्लाई पर जोर देते हुए सभी अस्पतालों को ऑक्सीजन की उपलब्धता और मांग की सूचना 24 घंटा पहले देने का आदेश दिया गया। साथ ही किस अस्पताल को किस कारण से कितने सिलिंडर गए इसका गहन निरीक्षण कर आंकड़ा तैयार करने का निर्देश दिया गया ताकि सिलिंडर की जमाखोरी को रोका जा सके।


कोविड का इलाज करने वाले निजी अस्पतालों की नियमित निगरानी:

जिलाधिकारी ने निर्देशानुसार निजी अस्पतालों में वहां आने वाले रोगियों के निरीक्षण के लिए एक सरकारी कर्मचारी तैनात किए गये हैं। जो रोगी में कोरोना का लक्षण दिखने पर तुरंत जिला स्वास्थ्य विभाग को सूचित करेगा, जिससे संक्रमितों के सही आंकड़े का पता लगेगा। कोविड का इलाज करने वाले निजी नर्सिंग होम से संबंधित प्रतिनियुक्त  दंडाधिकारी एवं चिकित्सक दैनिक रूप से अपने-अपने प्रतिनियुक्ति स्थल पर उपस्थिति सुनिश्चित करेंगे। उनके द्वारा रोगियों की संख्या, डिस्चार्ज रोगियों की संख्या, दवाओं की उपलब्धता, ऑक्सीजन की उपलब्धता, ट्रीटमेंट प्रोटोकॉल का पालन हो रहा है कि नहीं और मौत से सम्बंधित दैनिक प्रतिवेदन जिलाधिकारी को उपलब्ध कराएंगे। 


खाद्दान्न की उपलब्धता करें  सुनिश्चित, कालाबाजारी पर रोक लगावें:

खाद्यान्न/अनाज के उठाव की धीमी प्रगति पर उन्होंने जिला आपूर्ति पदाधिकारी को चेताया और कहा कि गंभीरता पूर्वक अपने दायित्व का निर्वहन करें। खाद्द पदार्थों  की उपलब्धता सुनिश्चित करें। कालाबाजारी पर रोक लगाने की दिशा में प्रभावी कदम उठाना सुनिश्चित करें। कहा कि वैसे होल सेलर दुकानदारों पर कड़ी नजर रखें एवं सख्त कार्रवाई भी करें जो अनावश्यक भंडारण कर कृत्रिम अभाव उत्पन्न कर रहे हैं। स्पष्ट कहा कि उक्त कार्य में ढिलाई या लापरवाही पर सख्त कार्रवाई की जाएगी। 


बसों और टेम्पो पर रहेगी सख्ती:

उन्होंने जिला परिवहन अधिकारी को निर्देश दिया कि पब्लिक ट्रांसपोर्ट में 50% से अधिक सवारी बैठाने पर और  बस मालिकों द्वारा बस को सैनिटाइज नहीं करने पर दोनों ही स्थिति में बस को या संबंधित वाहन को सीज किया जाए। टेम्पो पर भी सख्ती बरती जाए। निर्देश दिया कि वीर कुँवर सिंह बस स्टैंड परिसर में बस स्टैंड संचालकों द्वारा प्रत्येक बस की क्षमता एवं उक्त बस की 50% क्षमता से संबंधित संख्या चस्पा कराना सुनिश्चित कराया जाए। 



सतर्कता जरूरी, दिन व दिन बढती जा रही है संक्रमित व्यक्तियों की संख्या:

जिले में कोविड-19 संक्रमण की वृद्धि हो रही है। गुरुवार  को 81 नए मरीजों के साथ ही संक्रमित मरीजों की संख्या 714 हो चुकी है। हालांकि, आज 39 लोग कोरोना से पूरी तरह ठीक भी हुए हैं। नगर परिषद क्षेत्र, किशनगंज में 494, किशनगंज ग्रामीण क्षेत्र में 13, दिघलबैंक में 11, ठाकुरगंज में 28, बहादुरगंज में 26, पोठिया में 13, टेढ़ागाछ में 28, कोचाधामन में 19 तथा प्रवासी 82 व्यक्ति संक्रमित व्यक्ति हैं। जिले में कुल 57 कन्टेनमेंट जोन बनाये गये हैं। जिसमें से किशनगंज शहरी क्षेत्र में 46, बहादुरगंज में 02, किशनगंज ग्रामीण 01, कोचाधामन 03, ठाकुरगंज 05 माइक्रो कंटेनमेंट जोन सक्रिय है। जिले के कुल 72294 व्यक्तियों का प्रथम डोज़ एवं 17284 व्यक्तियों को दूसरा डोज़ टीकाकरण किया गया है वही अब तक कुल 3.94 लाख लोगों की कोरोना जांच हो सकी है। इसमें 5507 लोगों में संक्रमण की पुष्टि हुई है तो 4770 लोग संक्रमण से जुड़ी चुनौती को मात देकर पूरी तरह स्वस्थ हो चुके हैं। जिले में संक्रमण की दर 1.4 है तो वही रिकवरी दर 86.7 के करीब है। संक्रमण के प्रसार की संभावना बनी हुई है। लिहाजा जिला स्वास्थ्य विभाग ने सभी संबंधित स्वास्थ्य संस्थानों को अलर्ट किया है। जिला स्वास्थ्य विभाग को 18 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों को टीकाकरण के लिए 28 अप्रैल से शुरू हो रहे पंजीकरण सबंधित जागरूकता फैलाने का आदेश दिया गया। साथ ही स्वास्थ्य विभाग को अपने जिम्मेवारियों के प्रति सजग रहने और किसी भी प्रकार की लापरवाही की स्थिति में सख्त कार्यवाई के लिए तैयार रहने की हिदायत दी गई।

कोई टिप्पणी नहीं

बिहार खबर वेबसाइट पर कॉमेंट करने के लिए धन्यवाद।