Breaking News

टिकटॉक के जरिए तीन बच्चों की मां को नाबालिग से हुआ प्यार, परिवार छोड़कर शादी करने पहुंची बिहार

 


कहते हैं प्यार अंधा होता है। जब कोई प्यार में डूबा होता है तो उसे समाज के रस्म-रिवाज, मर्यादा कुछ नजर नहीं आती है। वो हर बंधन को तोड़कर अपने प्यार की बाहों में रहने के सपने संजोता रहता है। इसके लिए वो अपने परिवार को भी छोड़ने से परहेज नहीं करता। ऐसे ही कुछ हुआ बिहार के बिहारशरीफ जिले में। जहां टिकटॉक के जरिए एक किशोर से तीन बच्चों की मां को प्यार हो गया। 

दरअसल, मिस कॉल और टिकटॉक से मुंबई की अधेड़ महिला की पहचान नाबालिग किशोर से हुई। इसके बाद वो अपने परिवार को छोड़ बिहारशरीफ पहुंच गई। वहीं जब किशोर के परिजनों को इसकी भनक लगी तो वे हैरान रह गए। सूचना के बाद पुलिस मौके पर पहुंची और दोनों को थाने लेकर आ गई। महिला को देखकर लोग हैरान हो गए।

जानकारी के अनुसार, महिला और किशोर के बीच लगभग चार महीने से बातचीत चल रही थी। दोनों टिकटॉक और व्हाट्सएप पर चैट कर रहे थे। हालांकि इस दौरान महिला को ये नहीं पता था कि उसका प्रेमी नाबालिग है। महिला ने बातचीत के जरिए किशोर से उसका पता ले लिया। कुछ दिन पहले किसी बात को लेकर दोनों के बीच झगड़ा हो गया। इसके बाद किशोर ने उससे बात करना बंद कर दिया। फिर क्या था अपने प्रेमी को मनाने के लिए महिला उसके घर पहुंच गई।

वापस घर लौटी महिला
जब मोहल्लेवासी और परिवार को इस मामले का पता चला तो वे आश्चर्यचकित रह गए। महिला के पति की मौत हो चुकी है और उसके तीन बच्चे हैं। सदर डीएसपी डॉ. शिब्ली नोमानी ने बताया कि मुंबई से महिला के परिवार को बुलाकर दोनों को समझा गया। इसके बाद महिला वापस लौट गई। हालांकि वो पहले नाबालिग से शादी करने की जिद पर अड़ी थी। आखिरकार समझाने के बाद वो मानी।

कोई टिप्पणी नहीं

बिहार खबर वेबसाइट पर कॉमेंट करने के लिए धन्यवाद।