Breaking News

Bihar Board 10th Result 2021: क्या इस बार घट सकता है बिहार मैट्रिक परीक्षाफल का सफलता प्रतिशत? जानें अनुमान

 


Bihar Board 10th Result 2021 : बिहार बोर्ड 10वीं परीक्षाफल जल्द जारी होंगे। उम्मीद है कि सोमवार ( 5 अप्रैल 2021) के आसपास रिजल्ट घोषित हो जाएगा। लेकिन इसी बीच रिजल्ट को लेकर छात्रों के मन में तरह-तरह के सवाल चल रहे हैं। क्योंकि यदि बिहार बोर्ड मैट्रिक परीक्षाफल का सफलता प्रतिशत मैट्रिक रिजल्ट 2020 की तरह  80.59 फीसदी के आसपास रहा तो छात्रों के लिए राहतभरा होगा। लेकिन यदि मैट्रिक रिजल्ट का सफलता प्रतिशत गिरा तो बड़ी संख्या में छात्र फेल हो सकते हैं।

बिहार बोर्ड 12वीं का रिजल्ट घटा-
2017 से 2020 तक जिस तरह से बिहार बोर्ड का इंटर रिजल्ट का सफलता प्रतिशत बढ़ा है उससे इस भी भी रिजल्ट बेहतर होने का अनुमान था। लेकिन इस बार बिहार बोर्ड इंटर के वार्षिक परीक्षाफल में इस साल कुल 78.04% छात्र सफल घोषित हुए हैं। जबकि 2020 में बिहार बोर्ड इंटरमीडिएट रिजल्ट 2020 में कुल 80.44 प्रतिशत स्टूडेंट पास हुए थे। यानी इस बार 2.4 फीसदी रिजल्ट गिरा है। हालांकि 2017 के मुकाबले यह 44 फीसदी अधिक रहा।

बिहार बोर्ड मैट्रिक रिजल्ट कैसा रहेगा ?
इस साल कोरोना महामारी का साल रहा है जिससे बिहार बोर्ड इंटर रिजल्ट में मामूली गिरावट देखने को मिली है। इसी रिजल्ट को यदि मैट्रिक परीक्षा 2021 के लिए आधार माना जाए तो आशंका है कि मैट्रिक का रिजल्ट भी पिछले साल की तुलना में घट सकता है। लेकिन ये अभी ये अनुमान है। सच्चाई क्या है? इस बात का पता रिजल्ट घोषित होने के बाद ही चलेगा।

बिहार बोर्ड 10वीं की परीक्षा में भाग लेने वाले अभ्यर्थी अपना रिजल्ट बिहार बोर्ड की आधिकारिक वेबसाइट onlinebseb.in और biharboardonline.bihar.gov.in  कर सकेंगे।


मैट्रिक रिजल्ट 2020 में 80.59 प्रतिशत छात्र हुए थे सफल:
पिछले वर्ष (2020) बिहार बोर्ड मैट्रिक परीक्षा में कुल 80.59 प्रतिशत स्टूडेंट्स पास हुए थे। इनमें से 4,03,392 विद्यार्थी प्रथम श्रेणी में, 524217 सेकेंड डिवीजन से और 2,75,402 थर्ड डिवीजन से पास हुए थे।

13.84 लाख परीक्षार्थियों को रिजल्ट का इंतजार
बिहार बोर्ड 10वीं परीक्षा 2021 के रिजल्ट के लिए राज्य के करीब 13 परीक्षार्थी इंतजार में हैं। मैट्रिक परीक्षा 2021 का आयोजन 17 फरवरी से 24 फरवरी 2021 तक किया गया था। बिहार बोर्ड मैट्रिक परीक्षा में कुल 16 लाख 84 हजार 466 परीक्षार्थी शामिल हुए। इनमें आठ लाख 37 हजार 803 छात्राएं और आठ लाख 46 हजार 663 छात्र थे। मैट्रिक परीक्षा की कॉपियों का मूल्यांकन 12 से 24 मार्च तक पूरा कर लिया गया था। इससे पहले 26 मार्च को बिहार बोर्ड इंटर का रिजल्ट भी जारी किया जा चुका है। 

कोई टिप्पणी नहीं

बिहार खबर वेबसाइट पर कॉमेंट करने के लिए धन्यवाद।