Breaking News

छपरा:- सारण में कोरोना से सात की मौत , 124 पॉजिटिव मरीज मिले

 


कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या बढ़कर हुई 13 सौ 37

छपरा शहर जिले के अलग-अलग प्रखंडों में 108 कंटेनमेंट जोन बनाए गए हैं

छपरा। सारण जिले में करोना वायरस एक्सप्रेस की रफ्तार थमने का नाम नहीं ले रही है। चौबीस घंटे के अंदर सारण की सरपंच समेत सात लोगों की मौत हो गयी जिसमें मां-बेटे समेत चार लोगों ने पटना में दम तोड़ दिया। शनिवार को जिले में पॉजिटिव मरीजों की संख्या 124 मिली है । कोई ऐसा दिन नहीं है कि पॉजिटिव मरीजों की संख्या सौ के पार नहीं हो रही है। कोरोना की दूसरी लहर में मरीजों की लगातार संख्या बढ़ रही है । जिला स्वास्थ्य समिति के मूल्यांकन पदाधिकारी भानु शर्मा ने बताया कि अब तक 108 माइक्रो कंटेनमेंट जोन बनाया गया है। मरीजों की मौत का आंकड़ा सरकारी फाइलों में 12 है लेकिन सारण के 16 लोग इसके शिकार हो गये हैं। नगरा की खैरा पंचायत की सरपंच मालती देवी, भेल्दी के एक युवक व सिताबदियारा के राजीव सिंह और उनकी मां की मौत पटना में हो गयी। छपरा सदर अस्पताल में इलाज के क्रम में एक महिला ने दम तोड़ दिया। उक्त महिला गड़खा प्रखंड की रहने वाली बताई जाती है। दूसरा व्यक्ति शहरी क्षेत्र का ही था। उसकी घर पर ही मौत हो गई। वही दिघवारा प्रखंड के रहने वाले एक पॉजिटिव व्यक्ति ने भी दम तोड़ दिया। हालांकि स्वास्थ्य प्रशासन और जिला प्रशासन इसको लेकर काफी सजग है। छपरा जंक्शन पर कोविड जांच केंद्र जो बनाए गए हैं जहां प्रत्येक दिन 30 से 40 यात्रियों में कोरोना वायरस पॉजिटिव मिल रहा है। सिविल सर्जन डॉ जनार्दन प्रसाद सुकुमार ने बताया कि बाहर से आने वाले एक-एक यात्री की कोविड-19 जांच की जा रही है। मेडिकल टीम के द्वारा निर्देश पर मुंबई, दिल्ली, कोलकाता, चेन्नई , झारखंड पंजाब आदि शहरों से आने और जाने वाले मुसाफिरों का सबसे पहले थर्मल स्कैनिंग कर लक्षण होने पर तत्काल जांच की जा रही है। सिविल सर्जन ने बताया कि शहरी क्षेत्र व सोनपुर हॉट स्पॉट कोरोना वायरस को लेकर बनता जा रहा है। शहरी क्षेत्र में 300 सौ मरीज कोरोना संक्रमित अब तक मिल चुके हैं। डीपीएम अरविंद कुमार ने बताया कि सारण जिले में एक्टिव मरीजों की संख्या 1337 हो गई है।

कोई टिप्पणी नहीं

बिहार खबर वेबसाइट पर कॉमेंट करने के लिए धन्यवाद।