Breaking News

Breaking News औचक निरीक्षण पर पहुंचे कोसी डीआईजी, शराब के नशे में झूमते मिले एएसआई, एफआईआर दर्ज

 


बिहार के सहरसा जिले में शराब के नशे में झूमते एएसआई के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई है। कोसी डीआईजी ने औचक निरीक्षण के दौरान सौरबाजार थाने में तैनात एएसआई ओमप्रकाश राम को शराब के नशे में पाया। ब्रेथ इनेलाइजर से जांच में पुष्टि होने के बाद एएसआई के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई है।

बता दें कि कुछ दिन पहले ही मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने पदाधिकारियों को सख्त निर्देश दिया था कि विशेष अभियान चलाकर शराब की आपूर्ति और वितरण चेन को ध्वस्त करें। शराब के धंधे में लिप्त बड़े लोगों की गिरफ्तारी करें। असली धंधेबाज को पकड़ने में सख्ती दिखाएं। 

मुख्यमंत्री ने कहा कि शराबबंदी के पूर्व जो शराब के व्यवसाय से जुड़े थे, अब वे किस कार्य में लगे हैं, उन पर विशेष नजर रखें। कहा कि राज्य की अधिकतर जनता शराबबंदी के पक्ष में है। कोरोना काल में भी चिकित्सकों ने शराब न पीने की सलाह दी है। एक रिपोर्ट में बताया गया है कि शराब पीने वालों पर कोरोना वैक्सीन का असर कम हो जाता है।

जिस घर में मिलेगी शराब, वहां खुलेगा थाना
बिहार में शराब का कारोबार करने वाले माफियाओं पर सरकार का शिकंजा और कसेगा। बिहार में अब जिस मकान से शराब की खेप बरामद होगी, सरकार उसमें जरूरत के अनुसार पुलिस थाना खोलेगी। राजधानी पटना के एक गोदाम में बड़ी मात्रा में शराब बरामद की गई थी। वहां बाईपास थाना खोलकर राज्य सरकार ने इसकी शुरुआत कर दी है। यही नहीं, शराब माफियाओं की संपत्ति को जब्त कर उसे नीलाम भी किया जाएगा। बिहार में पूर्ण शराबबंदी को और प्रभावी बनाने के लिए शराब माफियाओं पर मुकदमा दर्ज कर स्पीडी ट्रायल चलाया जाएगा।

कोई टिप्पणी नहीं

बिहार खबर वेबसाइट पर कॉमेंट करने के लिए धन्यवाद।