Breaking News

बिहार में खाकी पर लगा दाग! गंगा किनारे कुत्ते नोंच रहे थे महिला की लाश, नहीं पहुंची पुलिस

 


बिहार के वैशाली जिले के महनार पुलिस का संवेदनहीन चेहरा उस वक्त उजागर हुआ, जब सूचना के बावजूद गंगा किनारे फेंकी गई अज्ञात महिला की लाश की सुधि नहीं ली। प्राप्त जानकारी के अनुसार समस्तीपुर-वैशाली जिले के बॉर्डर पर महनार थाना क्षेत्र के अधीन आने वाले पलवैया गंगाघाट के समीप मिट्टी में दबायी गई एक महिला की लाश को कुत्ते नोच कर खा रहे थे। आसपास के लोगों ने इसकी सूचना पटोरी थाना को दी। 

सूचना मिलते ही थानाध्यक्ष मुकेश कुमार पुलिस बल के साथ घटनास्थल पहुंचे। घटनास्थल के मुआयना से स्पष्ट हुआ कि वह क्षेत्र वैशाली जिले के महनार थाना के अधीन है। पटोरी के थानाध्यक्ष मुकेश कुमार ने सोमवार दोपहर में ही इसकी सूचना महनार थाना पुलिस को दे दी, परंतु सूचना मिलने के बाद भी जब रात के 8:00 बजे तक महनार पुलिस घटनास्थल पर नहीं पहुंची तो पटोरी पुलिस ने अंचल कार्यालय, पटोरी को आवेदन देकर घटनास्थल का क्षेत्रांकन कराया। जिसमें अंचल कार्यालय पटोरी द्वारा स्पष्ट कर दिया गया कि घटनास्थल महनार थाना क्षेत्र के अधीन है। इस जानकारी के बाद भी महनार थाना पुलिस सजग नहीं हुई तो पटोरी के थानाध्यक्ष मुकेश कुमार ने मानवता का परिचय देते हुए कुत्ते तथा अन्य पशुओं से शव की रक्षा की दृष्टि से महिला के शव को अपने कब्जे में लेकर मंगलवार की सुबह पोस्टमार्टम के लिए समस्तीपुर भेज दिया। थानाध्यक्ष ने बताया कि महिला की उम्र लगभग 25 वर्ष है। महिला शादीशुदा है और उसकी लाश को लोगों ने कुछ दिन पूर्व ही मिट्टी के अंदर दबा दिया होगा। 

शव को मिट्टी में दबाने के बाद ऊपर से एक कंबल रख दिया गया था, परंतु कुत्तों की नजर उस शव पर पड़ी तो कुत्ते शव को नोच कर खाने लगे। इससे महिला का सिर, चेहरा और एक हाथ पूरी तरह नष्ट हो गया, जिससे उसकी पहचान मुश्किल हो गई है। थानाध्यक्ष ने बताया कि पोस्टमार्टम के बाद विभागीय नियमानुसार 72 घंटे तक शव को उसकी पहचान के लिए सुरक्षित रखा जाएगा। शव की पहचान नहीं होने की स्थिति में 72 घंटे बाद उसकी अंत्येष्टि कर दी जाएगी। थानाध्यक्ष ने बताया कि इस घटना की जानकारी आसपास के सभी थाना क्षेत्रों को दे दी गई है।

कोई टिप्पणी नहीं

बिहार खबर वेबसाइट पर कॉमेंट करने के लिए धन्यवाद।