Breaking News

मोतिहारी :- अपराधी आए और दुकान में घुसकर पैक्स अध्यक्ष को ताबड़तोड़ दाग दीं छह गोलियां

 



मोतिहारी । अमन पसंद क्षेत्र के लोगों के लिए मंगलवार का दिन अमंगलकारी रहा। अपराधियों के दुस्साहस का आलम यह रहा कि दिनदहाड़े आए और दुकान में घुसकर पैक्स अध्यक्ष को ताबड़तोड़ छह गोलियां दाग दी। पैक्स अध्यक्ष के सिर, छाती व जांघ में गोली लगी। बताया जाता है कि मटिअरिया कोठी चौक पर वे प्रतिदिन की भांति मंगलवार सुबह करीब 10 बजे अपनी खाद दुकान पर आकर बैठ गए थे। इसी दौरान मोतिहारी की तरफ से एक अपाची बाइक आई और देखकर आगे बढ़ी। इसी बीच दूसरी अपाची बाइक पर सवार दो अपराधी आए और दुकान में घुसकर पैक्स अध्यक्ष पवन गुप्ता के शरीर में बिल्कुल पास से पिस्टल की छह गोलियां उतार दी। उनको एक गोली सिर में चार गोली पेट व छाती में तथा एक गोली जांघ में लगी। उन्होंने घटनास्थल पर ही दम तोड़ दिया। फिर भी ग्रामीणों ने संतोष के लिए उन्हें इलाज हेतु मोतिहारी ले गये जहां डॉक्टर में मृत घोषित कर दिया। हत्या के बाद इलाके में सनसनी मच गई।

 भादा दामोवृति का है गिरफ्तार बदमाश अनिल सहनी

आसपास के दुकानदारों ने भाग रहे अपराधियों में से एक को पकड़ कर जमकर पिटाई कर दी। इसके बाद उसे कमरे में बंद कर दिया। उसकी पहचान भादा पंचायत के दामोवृति निवासी अनिल सहनी के रूप में हुई। गुस्साए लोगों ने अपराधियों की बाइक में आग लगा दी और अरेराज-मोतिहारी रोड को जाम कर दिया और पुलिस पर भी हमला कर दिया। पुलिस ने हालात को काबू करने के लिए करीब तीस राउंड हवाई फायरिग की। पकड़ाए अपराधी ने कहा कि उसे मटियरिया पंचायत के मुखिया सुरेंद्र सिंह ने हत्या की सुपारी दी थी। इसके बाद पुलिस ने मुखिया को गिरफ्तार कर लिया। लोग अनिल सहनी को भीड़ के हवाले करने की मांग कर रहे थे, जबकि पुलिस उन्हें बार-बार कानून हाथ में नहीं लेने की अपील कर रही थी। लोगों का कहना है कि जब तक पुलिस मामले में शामिल सभी अपराधियों की गिरफ्तारी नहीं करती है तब तक वे सड़क पर ही डटे रहेंगे। एसपी नवीनचंद्र झा ने कहा कि पूछताछ अनिल सहनी ने बताया कि मटियरिया पंचायत के मुखिया सुरेंद्र सिंह ने उसे पैक्स अध्यक्ष को मारने की सुपारी दी थी। इसके बाद उसने अपने साथी चंदन के साथ मिलकर पैक्स अध्यक्ष की हत्या की। स्थानीय लोग का कहना है कि पैक्स चुनाव में मुखिया सुरेंद्र सिंह ने पवन गुप्ता का विरोध किया था। इसके बाद दोनों में विवाद चल रहा था। लोगों का यह भी कहना है कि पैक्स चुनाव जीतने के बाद पवन गुप्ता पंचायत चुनाव लड़ने की तैयारी कर रहे थे। मटियरिया पंचायत मुखिया को डर था कि पवन पंचायत चुनाव लड़ेगा तो वह जीत जाएगा। लोगों का कहना है कि चुनाव हारने के डर से ही मुखिया ने पवन की हत्या की सुपारी दी।

इनसेट

छह साल पहले भी पैक्स अध्यक्ष पर हुआ था हमला, मिला था पिस्टल का लाइसेंस

हरसिद्धि : मटिअरिया के पैक्स अध्यक्ष पवन गुप्ता पर पहले भी करीब छह साल पहले जानलेवा हमला हुआ था। इसके बाद प्रशासन की ओर से उन्हें आत्मरक्षा के लिए पिस्टल की लाइसेंस भी दी गई थी। बताया जाता है कि रंगदारी के लिए बदमाशों ने उनपर हमला किया था। तब उस समय भी ग्रामीणों ने हमलावर को पकड़कर पुलिस के हवाले किया था। इसके बाद प्रशासन ने उनकी रक्षा के लिए लाइसेंस निर्गत किया था। 

कोई टिप्पणी नहीं

बिहार खबर वेबसाइट पर कॉमेंट करने के लिए धन्यवाद।