Breaking News

मोतिहारी:- एसपी ने जिले के ढाई दर्जन थानाध्यक्षों के वेतन पर अगले आदेश तक के लिए रोक लगा दी

 


मोतिहारी। हत्याकांडों में गिरफ्तारी व रोड सुरक्षा एप को डाउनलोड नहीं करने के मामले में पुलिस अधीक्षक ने कड़ा तेवर अख्तियार किया है। उन्होंने जिले के ढाई दर्जन थानाध्यक्षों के वेतन पर अगले आदेश तक के लिए रोक लगा दी है। कहा कि जब तक टास्क पूरा नहीं होगा, तब तक उनके वेतन का भुगतान नहीं होगा। अगर रविवार तक एप डाउनलोड का लक्ष्य पूरा नहीं हुआ तो थानाध्यक्षों पर अनुशासनात्मक कार्रवाई की जाएगी। एसपी नवीनचंद्र झा मंगलवार को मासिक अपराध संगोष्ठी को संबोधित कर रहे थे।

एसपी ने कहा कि थानाध्यक्षों को 21 हजार लोगों तक रोड सुरक्षा सप्ताह का जारी एप डाउनलोड कराना है। मगर, अबतक मात्र तीन हजार लोगों तक ही थानाध्यक्षों द्वारा यह एप डाउनलोड कराया गया है। सभी थानाध्यक्षों को निर्देश दिया गया कि वे अपने-अपने थाना क्षेत्रों के अन्दर पड़ने वाले पेट्रोल पंप, बैंक, एटीएम व सीएसपी बैंक का सूचना संग्रह कर उन सभी की तस्वीर भेजें व उनपर सुरक्षा का पुख्ता इंतजाम करें। वहीं होली को लेकर शराब की डंपिंग करने वाले स्थलों को चिह्नित कर सूचना सग्रंह करें व शराब कारोबारियों को हर हाल में सलाखों के अन्दर करे।

एसपी ने कहा है कि होली पर्व को लेकर शराब के कारोबारी शराब का डम्पिग कर रहे हैं। उन स्थलों को चिह्नित करें व कारोबारी को हर हाल में गिरफ्तार करें। वहीं उपद्रवी तत्वों को चिह्नित कर उनपर 107 व 116 के तहत कार्रवाई करें। वहीं हत्याकांड में शामिल बदमाशों की गिरफ्तारी हर हाल में करे। बैठक में मुख्यालय डीएसपी शैशव यादव, सदर डीएसपी अरूण कुमार गुप्ता, अरेराज के ज्योति प्रकाश, पकड़ीदयाल के सुनील कुमार सिंह, सिकरहना के शिवेन्द्र कुमार अनुभवी, पुलिस निरीक्षक विजय कुमार राय, नित्यानंद चौहान, राकेश कुमार, अनिल कुमार, अभय कुमार के अलावे थानाघ्यक्ष अभिनव कुमार दुबे, कंचन भास्कर, राजेश कुमार, इन्द्रजीत पासवान, अखिलेवर मिश्रा, सुनील कुमार, नितीन कुमार, मनोज कुमार, अनिल कुमार आदि मौजूद थे।  

कोई टिप्पणी नहीं

बिहार खबर वेबसाइट पर कॉमेंट करने के लिए धन्यवाद।