Breaking News

बिहार में एक सप्ताह में स्टाम्प की किल्लत दूर होगी, नासिक से मंगाया जा रहा स्टाम्प पेपर, तत्काल ई-स्टाम्प की सुविधा है उपलब्ध


उत्पाद एवं निबंधन विभाग द्वारा एक सप्ताह के अंदर पूरे राज्य में स्टाम्प की किल्लत दूर कर दी जाएगी। विभाग ने स्टाम्प पेपर मंगाने के लिए पटना के ट्रेजरी ऑफिसर को महाराष्ट्र के नासिक स्थित प्रिटिंग प्रेस में भेजा है। वहां से सड़क मार्ग द्वारा ट्रकों पर स्टाम्प पेपर बिहार लाया जाएगा। पूरी सुरक्षा बंदोबस्त के साथ स्टाम्प पेपर लाया जाएगा। इसके बाद, सभी जिलों को तिथिवार बुलाकर स्टाम्प पेपर सौंपे जाएंगे। स्टाम्प पेपर जिलों के ट्रेजरी ऑफिसर या सहायक ट्रेजरी ऑफिसर को सौंपे जाएंगे। गौरतलब है कि राज्य के कई जिलों में स्टाम्प की भारी किल्लत की शिकायतें मिल रही हैं। 

उत्पाद एवं निबंधन विभाग के आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि 500 व 1000 के स्टाम्प पेपर का बिहार में अधिक उपयोग होता है। ऐसे में इन दोनों स्टाम्प पेपरों को दो-दो लाख की संख्या में लाया जा रहा है। सूत्रों ने बताया कि इसके साथ ही कम मूल्य के भी स्टांप पेपर की भी कमी दूर करने को लेकर सभी प्रकार के स्टाम्प पेपर मंगाए जा रहे हैं। 

तत्काल ई-स्टाम्प व 'ओ-ग्रास' की सुविधा  
सूत्रों ने बताया कि तत्काल राज्य में ई-स्टाम्प व 'ओ-ग्रास' की सुविधा का उपयोग किया जा सकता है। स्टाम्प पेपर की तरह ही इन्हें भी कानूनी रूप से मान्यता प्राप्त है। कम या अधिक राशि का ई-स्टाम्प सभी जिले के जिला निबंधन कार्यालय में उपलब्ध है। वहीं, सभी सिविल कोर्ट से लेकर हाईकोर्ट तक में ई-स्टाम्प की सुविधा उपलब्ध है। वहीं, ई-चालान के माध्यम से ' ओ-ग्रास' पर ऑनलाइन भुगतान कर भी कार्य किया जा सकता है।

कोई टिप्पणी नहीं

बिहार खबर वेबसाइट पर कॉमेंट करने के लिए धन्यवाद।