Breaking News

Bihar Politics: पप्‍पू यादव की नई मांग, हर गरीब को मिले आरक्षण, सरकारी ठेकों में भी युवाओं को मिले आरक्षण

 


पटना, राज्य ब्यूरो। जन अधिकार पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष और पूर्व सांसद पप्पू यादव ने कहा है कि निजी क्षेत्र में 60 फीसदी आरक्षण का प्रावधान किया जाना चाहिए क्योंकि अब सरकारी नौकरियां बिल्कुल समाप्त हो गयी है। आखिर युवा कब तक नौकरी की तलाश में बेरोजगार बैठा रहेगा? आरक्षण 50 फीसदी से बढ़ाकर हर गरीब को मिलना चाहिए, चाहे वो किसी भी जाति का हो। पप्पू यादव मंगलवार को मंदिरी स्थित पार्टी कार्यालय में प्रेस से बात कर रहे थे।

जनसंख्या आधारित भागीदारी की मांग करते हुए पप्पू यादव ने कहा कि आरक्षण व्यवस्था में सभी वर्गों को उनकी आबादी के अनुसार प्रतिनिधित्व मिलना चाहिए। जिसमें महिलाओं की भागीदारी सुनिश्चित की जानी चाहिए। पूरे देश में दलित, आदिवासी और मुस्लिम समुदाय से एक भी मुख्यमंत्री नहीं है। इस पर सभी दलों को गंभीरता से विचार करना चाहिए।

शराबबंदी पर जाप अध्यक्ष ने कहा कि सदन में शराबबंदी पर चर्चा से पहले सत्ता पक्ष और विपक्ष के सभी नेता अपना-अपना ब्लड टेस्ट कराएं। बिहार में अधिकतर नेता, पदाधिकारी और थानेदार हर रोज़ शराब पीते हैं। शराबबंदी बिहार के युवाओं को अपराध के दलदल में धकेलने का जरिया बन गया है। इसके कारण हत्या और दुष्‍कर्म के मामले भी बढ़ रहे हैं। दूसरे राज्यों से शराब लाकर यहाँ तीन से चार गुना दाम पर बेचा जा रहा है। इससे राज्य में 50 हज़ार करोड़ रुपए की समानांतर अर्थव्यवस्था चल रही है, जो पूरी तरह से अवैध है। और इससे सबसे ज्यादा नुकसान प्रदेश के सरकारी कोष को हो रहा है। शराब तस्करों की सम्पति जब्त होनी चाहिए और उन्हें कड़ी सजा मिलनी चाहिए। सजा का प्रावधान जहरीली शराब बनाने और बेचने वालों के लिए होना चाहिए न कि पीने वालों के लिए। पप्पू यादव ने कहा कि राज्य के 85 फीसदी ठेके बिहार के युवाओं को मिले।  

कोई टिप्पणी नहीं

बिहार खबर वेबसाइट पर कॉमेंट करने के लिए धन्यवाद।