Breaking News

Big Breaking News दानापुर में पैसेंजर ट्रेन दुर्घटनाग्रस्त, 5 यात्रियों की मौत, 8 घायल! जानें क्या है पूरा मामला

 


दानापुर के मंडल रेल प्रबंधक सुनील कुमार की उपस्थिति में दानापुर रेलवे यार्ड में रेल दुर्घटना पर मॉक ड्रिल किया गया। मॉक ड्रिल दानापुर मंडल और एनडीआरएफ बिहटा की 9वीं बटालियन ने संयुक्त रूप से किया। इस दौरान रेल दुर्घटना के बाद बचाव कार्य व खतरों को कम से कम किए जाने को लेकर कार्य किए गए। ड्रिल में उपकरणों से भी एनडीआरएफ के कर्मी लैस रहे। 

मंडल रेल प्रबंधक सुनील कुमार ने ड्रिल के बाद कहा कि राहत व बचाव कार्य करने वाली या अलग-अलग एजेंसियों के बीच इस प्रकार का मॉक ड्रिल अभ्यास किया जाना चाहिए ताकि दुर्घटना के समय सहूलियत हो। कहा कि इस तरह की तैयारियों से त्वरित गति से दुर्घटनाग्रस्त यात्रियों को राहत पहुंचाया जा सकेगा। उन्होंने कहा कि वास्तविक रेल दुर्घटना के समय रेलवे के बचाव एवं राहत दल स्फूर्त ढंग से कार्य कर सकें, इसके लिए रेलवे एक कृत्रिम दुर्घटना का दृश्य (काल्पनिक रेल दुर्घटना) बनाकर मॉक ड्रिल करती है। 

स्टेशन पर सायरन बजते ही मची अफरातफरी
सुबह 10:30 बजे दानापुर स्टेशन पर सायरन बजते ही अफरातफरी का माहौल हो गया। रेलवे द्वारा दुर्घटना के पश्चात किए जाने वाले कार्य किए गए। इसके बाद रेलवे कंट्रोल रूम द्वारा 9 वीं बटालियन एनडीआरएफ की टीम की मांग की गयी। सूचना मिलते ही एनडीआरएफ की टीम तुरंत घटनास्थल के लिए प्रस्थान कर गई तथा घटनास्थल पर पहुंचकर रेलवे के साथ संयुक्त रूप से बचाव और राहत कार्य शुरू कर दिया। 

संयुक्त मॉक ड्रिल में एक यात्री पैसेंजर ट्रेन के दुर्घटना के बाद 8 मामूली तथा 7 गंभीर रूप से घायल और 5 मृत यात्रियों को दर्शाया गया। वहीं, रेलवे तथा एनडीआरएफ की टीम ने इस संयुक्त मॉकड्रिल अभियान में सभी घायलों को सफलतापूर्वक क्षतिग्रस्त ट्रेन के कोच से निकालकर उन्हें चिकित्सा मुहैया कराने के लिए अस्पताल भेजा। क्षतिग्रस्त ट्रेन के कोच से घायलों और मृतकों को निकालने के लिए अत्याधुनिक उपकरणों की सहायता से कोच को काटकर घायल यात्रियों को निकाला गया। 

संयुक्त माक ड्रिल में जिला प्रशासन, राज्य सरकार के सिविल डिफेंस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए, दुर्घटनास्थल पर भीड़ को व्यवस्थित रूप से नियंत्रित किया। आरपीएफ तथा स्काउट गाइड की टीम ने भी माक ड्रील में भाग लिया। सुबह के 11 बजे से दोपहर दो बजे तक मॉक ड्रिल चला। मौके पर अपर मंडल रेल प्रबंधक (परिचालन) विभूति भूषण गुप्ता एवं अपर मंडल रेल (इन्फ्रा) महेश कुमार राय के एनडीआरएफ के 9वीं बटालियन के कमांडेंट हरविन्दर सिंह, डिप्टी कमांडेंट अभिषेक कुमार राय व एके आर्य समेत अन्य रहे। 

कोई टिप्पणी नहीं

बिहार खबर वेबसाइट पर कॉमेंट करने के लिए धन्यवाद।