Breaking News

सारण में अब तक 40 हजार से अधिक लोगों ने लिया कोविड-19 का टीका, महिला दिवस पर 5822 बुर्जुगों को लगे टीके

 


महिला दिवस पर टीकाकरण के मामले में बिहार मिला दूसरा स्थान

स्वास्थ्य कर्मियों व फ्रंटलाइन वर्करों का भी हो रहा  है टीकाकरण

टीका के प्रति आमलोगों में जगा विश्वास


छपरा/9,मार्च। वैश्विक महामारी को अंत करने के लिए टीकाकरण अभियान की शुरूआत की गयी है। जिले में बुजुर्गों का टीकाकरण किया जा रहा है। वहीं छूटे हुए स्वास्थ्य कर्मियों  तथा फ्रंटलाइन वर्करों का भी टीकाकरण किया जा रहा है। 8 मार्च को अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस के मौके पर विशेष रूप से महिलाओं के लिए टीकाकरण किया गया था। जिसमें 60 साल से अधिक या 45 से 59 साल तक की वैसी महिलाएं जो किसी गंभीर बिमारी से ग्रसित है उनका टीकाकरण किया गया। वहीं महिला दिवस के दिन भी पुरूष बुजुर्गों का भी टीकाकरण किया गया।


सिविल सर्जन डॉ. माधवेश्वर झा ने बताया  8 मार्च को 5822 बुजुर्गों ने अपने मजबूत आत्मविश्वास के साथ कोविड का टीका लिया। महिला दिवस के मौके पर कुल 7272 लोगों का टीकाकरण हुआ। इस आंकडे के साथ सारण जिले को बिहार में दूसरा स्थान हासिल हुआ है।  जिले के सदर अस्पताल समेत सभी पीएचसी, सीएचसी रेफरल व अनुमंडलीय अस्पतालों में टीकाकरण किया जा रहा है। इसके अलावा निजी अस्पताल में भी नि:शुल्क टीका लगाया जा रहा है। 



अब तक जिले में 40260 लाभार्थियों का हुआ टीकाकरण:

जिला स्वास्थ्य समिति के जिला अनुश्रवण सह मूल्यांकन पदाधिकारी भानू शर्मा ने बताया  जिले में 16 जनवरी से टीकाकरण अभियान की शुरूआत हुई थी। अब जिले में तीसरा चरण शुरू हो चुका है। जिसमें बुजुर्ग उत्साहित होकर टीकाकरण केंद्र पहुंच रहें है और अपना टीकाकरण करा रहें । वहीं जिले में 8 मार्च तक कुल 40260 व्यक्तियों को टीका लगाया जा चुका है। जिसमें स्वास्थ्यकर्मी, आईसीडीसीएसकर्मी, फ्रंटलाइन वर्कर व बुजुर्ग शामिल है। 



अफवाहों पर भारी पर रहा है बुजुर्गों का विश्वास: 


जिला स्वास्थ्य समिति के डीपीएम अरविन्द कुमार ने कहा कि कोविड-19 को जड़ से मिटाने के लिए अफवाहों से बाहर आकर निर्भीक होकर वैक्सीनेशन कराएं। साथ ही अपने अन्य सहयोगियों को भी प्रेरित करें। क्योंकि, वैक्सीन ही इस वैश्विक महामारी से स्थाई निजात का सबसे बेहतर विकल्प है। इससे ना सिर्फ आप सुरक्षित रहेंगे बल्कि आपके साथ-साथ आपका पूरा परिवार और समाज भी सुरक्षित रहेगा। वैक्सीन लेने के बाद बुजुर्ग काफी उत्साहित दिखे एवं सबों ने कहा वैक्सीन पूरी तरह सुरक्षित है। इसलिए बारी आने पर वैक्सीन जरूर लें। क्योंकि कोविड-19 संक्रमण वायरस को जड़ से मिटाने एवं खुद के साथ पूरे परिवार व समाजहित में सबसे बेहतर और आसान उपाय वैक्सीन ही है।


ऑन द स्पॉट हो रहा बुजुर्गों का रजिस्ट्रेशन:


कोविड टीकाकरण के लिए रजिस्ट्रेशन कराना जरूरी है। ऐसे में अगर कोई व्यक्ति सेल्फ रजिस्ट्रेशन करने में असमर्थ है तो उसका रजिस्ट्रेशन ऑनसाइट यानि टीकाकरण केंद्र पर किया जा रहा है। रजिस्ट्रेशन के लिए सरकार द्वारा निर्गत पहचान पत्र जैसे आधार कार्ड होने चाहिए। साथ ही मोबाइल फोन भी होना चाहिए। मोबाइल फोन पर आए ओटीपी को कोविन पोर्टल 2.0 पर फ़ीड करना होगा। 


इन तरीकों से करा सकते हैं  रजिस्ट्रेशन:


कोविन पोर्टल https://selfregistration.cowin.gov.in

ऑनसाइट पंजीकरण 

आरोग्य सेतु एप

कोई टिप्पणी नहीं

बिहार खबर वेबसाइट पर कॉमेंट करने के लिए धन्यवाद।