Breaking News

मोतिहारी/चकिया :- बैशाहा गांव के समीप एनएच 28 पर ट्रक व ट्रैक्टर के आमने सामने भिड़ंत में ट्रैक्टर पर सवार एक किशोर की मौत



चकिया थाना क्षेत्र स्थित बैशाहा गांव के समीप एनएच 28 पर ट्रक व ट्रैक्टर के आमने सामने भिड़ंत में ट्रैक्टर पर सवार एक किशोर की मौत हो गई।वहीं ट्रैक्टर चालक गंभीर रूप से घायल हो गया। घटना शुक्रवार दोपहर एक बजे की है

।भिड़ंत इतनी जबर्दस्त थी कि ट्रैक्टर के परखच्चे उड़ गये।

घटना के बाद स्थानीय लोगों के सहयोग से दोनों घायलों को एनएचआई के एंबुलेंस से स्थानीय अनुमंडलीय अस्पताल लाया जहां पर चिकित्सकों ने एक को मृत घोषित कर दिया जबकि गम्भीर रूप से घायल चालक का प्राथमिक इलाज के बाद स्थिति गंभीर देखते हुए चिकित्सक ने उसे रेफर कर दिया। मृतक कल्याणपुर थाना क्षेत्र के धनिछपरा गांव निवासी भूलन राय का 18 वर्षीय पुत्र नितेश कुमार बताया जाता है। जबकि उसी गांव का गम्भीर रुप से घायल ट्रैक्टर चालक सुकदेव राय है। ट्रक मोतिहारी की तरफ से अपने लेन में आ रही थी जबकि ट्रैक्टर विपरीत दिशा से उसी लेन में आने के कारण घटना घटी। वाहनों की टक्कर इतनी जोरदार थी कि ट्रक व ट्रैक्टर सड़क के किनारे गड्ढ़े में पलट गये। घटना के बाद क्षतिग्रस्त ट्रक का चालक फरार बताया जाता है। एनएच के उक्त लेन में अपने गंतव्य की ओर जा रहे वाहन की रफ्तार थोड़ी देर के लिए थम गयी और अफरातफरी का माहौल बन गया। पुलिस ने क्षतिग्रस्त ट्रक व ट्रैक्टर को जब्त कर लिया है। पुलिस ने मृतक के शव को पोस्टमार्टम के लिए मोतिहारी भेज दिया। घटना की सूचना के बाद मृतक के परिवार में कोहराम मच गया।

युवक का शव पहुंचते ही घर में मचा कोहराम, गांव में पसरा मातमी सन्नाटा

हरसिद्धि । थाना क्षेत्र के जागापाकड़ पंचायत के रामनगर में जागापाकड़ अरेराज मुख्य मार्ग पर गुरुवार की देर शाम सड़क हादसे का शिकार भादा पंचायत के नोनिया टोला वार्ड नंबर 6 निवासी देवेंद्र महतो ( 31) का शव घर पहुंचते ही शुक्रवार को कोहराम मच गया और गांव में मातमी सन्नाटा छा गया। उसे देखने के लिए भारी भीड़ जमा हो गयी। वही उसके तीन मासूम बच्चे सुनीता कुमारी(13), नरेंद्र कुमार(7) व झुनझुन कुमार(5) के सिर से पिता का साया उठ गया। पूर्व मुखिया विश्वंभर तिवारी ने बताया कि मृतक देवेंद्र महतो भादा पंचायत के नोनिया टोला वार्ड नंबर 6 निवासी प्रभु महतो का पुत्र था जो दूसरे राज्य में मजदूरी करता था और हाल ही में अपने घर आया था। वह गुरुवार को शिवरात्रि के मेला में अरेराज गया था। वह देर शाम को साइकिल से अरेराज से घर लौटा था कि जागापाकड़ अरेराज मुख्य मार्ग पर रामनगर गांव के समीप किसी अज्ञात वाहन की ठोकर से वह मौत का शिकार हो गया। थानाध्यक्ष शैलेंद्र कुमार सिंह ने सूचना मिलते ही त्वरित कार्रवाई करते हुए शव को पुलिस कब्जे में लेकर जांच उपरांत पोस्टमार्टम के लिए मोतिहारी भेज दिया। शुक्रवार को शव घर पहुंचते ही कोहराम मच गया और गांव में मातमी सन्नाटा छा गया। वहीं शव को देखने के लिए ग्रामीणों की भीड़ जमा हो गई। श्री तिवारी ने बताया कि मृतक के पिता प्रभु महतो, माता सुनैना देवी, पत्नी सोनी देवी का रोते-रोते बुरा हाल हो गया है। तीनों मासूम बच्चे अपने पिता की रट लगा रहे हैं। 

कोई टिप्पणी नहीं

बिहार खबर वेबसाइट पर कॉमेंट करने के लिए धन्यवाद।