Breaking News

कैंसर पर जागरूकता लाने के लिए स्वास्थ्य विभाग की कवायद




10 फरवरी तक निःशुल्क कैंसर रोग परामर्श शिविर का आयोजन

जांच के बाद कैंसर संभावित मरीज इलाज के लिए पटना रेफर होंगे


किशनगंज,5   फरवरी।

"विश्व कैंसर दिवस" के अवसर पर जिले में सभी स्वास्थ्य केंद्रों में 04 से 10 फरवरी तक "निःशुल्क कैंसर रोग परामर्श शिविर" का आयोजन किया जा रहा है| इसको लेकर राज्य स्वास्थ्य कार्यपालक निदेशक मनोज कुमार द्वारा सिविल सर्जन को पत्र लिखकर सम्बंधित आदेश दिया गया है। शिविर में आने वाले मरीजों की चिकित्सकों द्वारा विभिन्न प्रकार के कैंसरों की जांच करने के साथ ही आवश्यक परामर्श दिया जा रहा है | साथ हीं लोगों को कैंसर के प्रति जागरूक किया जा रहा है । राज्य स्वास्थ्य समिति के कार्यपालक निदेशक मनोज कुमार के इस पत्र में कहा गया है 4 फरवरी से 10 फरवरी तक विश्व कैंसर दिवस के अवसर पर नि:शुल्क कैंसर रोग परामर्श शिविर का आयोजन किया जाये। भारत सरकार के स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय के निर्देशानुसार जिला सहित प्रखंड स्तर के स्वास्थ्य केंद्रों पर कैंसर रोग परामर्श शिविर लगाकर चिकित्सक आमलोगों को इसकी जांच सुविधा मुहैया कराते हुए आवश्यक जानकारी दें और जागरूक करें।


कैंसर रोग की जांच की होगी सुविधाएं

विश्व कैंसर दिवस को लेकर सभी जिला अस्पतालों, अनुमंडल अस्पतालों, रेफरल अस्पतालों, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों सहित अतिरिक्त प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों व हेल्थ एंड वेलनेस सेंटरों पर नि:शुल्क कैंसर रोग परामर्श शिविर का आयोजन किया जा रहा  है। इसमें आने वाले मरीजों को चिकित्सकों के दवारा कैंसर रोग की स्क्रीनिंग के साथ साथ उन्हें आमतौर पर होने वाले कैंसर जैसे गर्भाशय, स्तन एवं मुंह के कैंसर आदि बीमारियों के संभावित कारणों, लक्षणों और उससे बचाव के प्रति जागरूकता का संदेश दिया जा रहा  है। 


उपचार के लिए पटना रेफर किये जायेंगेः 

कैंसर के संभावित रोगियों को बेहतर इलाज मुहैया कराने के लिए उन्हें पटना के विभिन्न कैंसर अस्पताल रेफर किया जायेगा। निर्देश के अनुसार चिकित्सकों द्वारा सामान्य कैंसर के संभावित रोगियों की खोज कर उन्हें पटना स्थित आईजीआईएमएस, एम्स, पीएमसीएच पटना व महावीर कैंसर अस्पताल में जांच एवं उपचार के लिए रेफर किया जाना है।. राज्य स्वास्थ्य समिति द्वारा सभी चिकित्सा महाविद्यालय अस्पताल के अधीक्षक सहित एम्स, आईजीआईएमएस, महावीर कैंसर संस्थान के निदेशकों को भी निःशुल्क  कैंसर रोग परामर्श शिविर के आयोजन के लिए कहा गया है।


गैरसंचारी रोग पदाधिकारी डाॅ फिरोज अहमद ने बताया कैंसर से बचाव के लिए  एहतियाती कदम उठाना  ज़रूरी  है। पुरुषों में मुख का कैंसर आमतौर पर होता है। इसका कारण धूम्रपान, गुटखा, खैनी, पान व अन्य नशीले पदार्थों का सेवन करना होता है। स्वस्थ्य जीवनशैली में इन आदत को छोड़ना जरूरी है। वहीं महिलाओं में अमूमन गर्भाशय व स्तन कैंसर आदि के मामले पाये जाते हैं। सामान्य तौर पर कैंसर के लक्षणों की पहचान की जा सकती है। लक्षण पाये जाने पर अपने निकटतम प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र या जिला अस्पताल से जांच के लिए संपर्क करने की उन्होंने अपील की है 


कैंसर के कुछ लक्षणः 

मुंह के अंदर या बाहर फोड़ा/जख्म का नहीं भरना 


मुंह के अंदर या जीभ पर सफेद चकता

बलगम, पखाना, पेशाब या जननान्ग मार्ग से खून आना


स्तन में गांठ, स्तन से खून का रिसाव

रजोवृति के बाद रक्तस्राव 


जननान्ग  मार्ग रिसाव में दुर्गंध


चमड़े पर तिल या गांठ के आकार में इजाफा

कोई टिप्पणी नहीं

बिहार खबर वेबसाइट पर कॉमेंट करने के लिए धन्यवाद।