Breaking News

मुख्यमंत्री नीतीश का फरमान, कहा- किसी के नजदीकी वाला शराब मामले में गड़बड़ी करे तो सीधे अंदर करें


बिहार में बीते कुछ दिनों से शराबबंदी को लेकर हो रहे हो हंगामे और विपक्ष के साथ-साथ सत्ता पक्ष के साथियों के निशाने पर आए मुख्यमंत्री नीतीश ने कहा कि किसी के नजदीकी वाला कोई भी आदमी शराब के मामले में गड़बड़ी करता है तो उसे सीधे अंदर कर दें। शराब बीमारियों और मौत का बड़ा कारण है।  पुलिस सप्ताह के अवसर पर BMP5 में आयोजित समारोहिक परेड में बतौर मुख्य अतिथि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने ये बातें कहीं।

 उन्होंने कहा कि शराबबंदी से खिलवाड़ करने वालों के खिलाफ गंभीर कार्रवाई हो रही है। कहा कि अप्रैल 2016 से जनवरी 2021 तक 255111 मामले दर्ज हुए हैं।

उन्होंने कहा कि शराबबंदी में शिथिलता बरतने वालों के खिलाफ भी कार्रवाई हो रही है। पुलिस और मद्य निषेध के 619 कर्मियों के खिलाफ विभागीय कार्यवाही, 348 पर एफआईआर और 186 कर्मियों को बर्खास्त किया गया। 60 पुलिस अधिकारी थानेदार बनने से वंचित हुए हैं। कहा कि शराबबंदी में मेरा कोई स्वार्थ नहीं है, लोगों के हित में मैं इसे छोड़ने वाला नहीं हूं।

कुछ लोग अपने आप को बड़ा ज्ञानी समझते हैं पर लिखते गड़बड़ हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि  90% लोग अच्छे हैं  महज 10%  इधर से उधर में रहते हैं। सीतामढ़ी की घटना पर उन्होंने कहा कि पुलिस पहुंची तो  धंधा करने वालों ने  गोली चला दी। हमेशा पुलिस को टीम में भेजें,  इक्का-दुक्का ना जाएं। जब तक धरती है बापू के विचार जिंदा रहेंगे।

कोई टिप्पणी नहीं

बिहार खबर वेबसाइट पर कॉमेंट करने के लिए धन्यवाद।