Breaking News

Bihar Crime: शव को ठिकाने लगाने की राय देने के आरोप में थानेदार निलंबित, दुष्कर्म के बाद नाबालिग की हुई थी हत्या

 


बिहार के मोतिहारी जिले में दुष्कर्म के बाद नाबालिग की हत्या मामले में कार्रवाई करने की बजाय कुंडवाचैनपुर के थानेदार आरोपितों के साथ मिलकर शव को जलवा दिया। 5 फरवरी को आरोपितों के  साथ बातचीत करते थानेदार का वीडियो वायरल होने पर एसपी नवीन चन्द्र झा ने थानेदार संजीव रंजन को निलंबित कर दिया। एसपी ने बताया कि हत्या की बात थानेदार को जानकारी थी। इसके बावजूद शव बरामद कर पोस्टमार्टम नहीं कराया व न ही एफआईआर दर्ज की। यही नहीं इसकी सूचना वरीय अधिकारी को भी नहीं दी। तत्काल थानेदार को निलंबित कर दिया गया है। आरोपितों के साथ थानेदार की गतिविधि की जांच कर अगली कार्रवाई की जायेगी।

12 पर हुआ था केस, पकड़े गए थे दो आरोपित:
कुण्डवा चैनपुर बाजार में नाबालिग के साथ गैंगरेप के बाद हत्या कर शव जला देने के मामले मे लड़की के पिता नेपाल देश के निवासी ने बारह लोगों पर एफआईआर दर्ज करायी है। जिस मकान में लड़की का परिवार रहता है, उसके मकान मालिक व पुत्र को भी आरोपित किया गया है। कुण्डवा चैनपुर पुलिस ने आरोपित मकान मालिक सियाराम साह व उसके पुत्र विनय साह को गिरफ्तार कर लिया है। 

दुष्कर्म के बाद हत्या कर देने का लगाया था आरोप:
नाबालिग का पिता कुण्डवा चैनपुर बाजार में सात वर्षों से नाइट गार्ड का काम करता है।  21 जनवरी को दिन में वह बाजार में दुकानों से मजदूरी वसूलने गया। छोटा पुत्र चाय बेचने चला गया। घर पर नाबालिग पुत्री थी। गार्ड की पत्नी अपने नेपाल में चली गयी थी। अकेला पाकर उसके साथ दुष्कर्म के बाद हत्या कर दी गयी। बच्ची के पिता ने आवेदन में आरोप लगाया है कि घटना के बाद बात दबाने के लिए आरोपितों के करीबी हरिकिशोर साह, उमेश साह, विनय साह सहित एक दर्जन के करीब लोग आ गए और चुप रहने का दबाव बनाने लगे। मोबाइल फोन छीन कर पिता व पुत्र को घर में ही नजरबंद कर दिया। रात होने पर सबने डरा धमका कर शव को जलवा दिया। आरोपितों की धमकी के कारण वह पुत्र को लेकर नेपाल चला गया। 02 फरवरी लौटकर आया तो सिकरहना डीएसपी को आवेदन दिया। डीएसपी के हस्तक्षेप के बाद 03 फरवरी को मकान मालिक के पुत्र विनय साह, दीपक कुमार, देवेंद्र कुमार, रमेश कुमार पर दुष्कर्म व भेद खुलने के डर से हत्या कर देने की एफआईआर दर्ज की गयी।  

पोस्टमार्टम कई लोगों के गले का बनता फांस
शव का पोस्टमार्टम होने पर कई लोगों के गले का फांस बन जाता। आरोपित लोगों ने थानेदार के साथ मिलकर नेपाली नागरिक को डरा धमकाकर शव को जला दिया।

कोई टिप्पणी नहीं

बिहार खबर वेबसाइट पर कॉमेंट करने के लिए धन्यवाद।