Breaking News

स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय का ऐलान- बिहार में जल्द ही 6300 से अधिक डॉक्टरों की होगी बहाली


बिहार में जल्द ही 6300 से अधिक डॉक्टरों की बहाली होगी। शुक्रवार को राज्य के स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय ने विधानसभा में इस बात की घोषणा की। वे सदन में सदस्यों के सवाल का जवाब दे रहे थे। स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि भर्तियों के लिए आयोग को जरूरतों के हिसाब से सूची भेज दी गई है। वहां से चयनित सूची मिलते ही स्वास्थ्य विभाग भर्ती की प्रक्रिया शुरू कर देगा।

मंगल पांडे ने कहा कि राज्य के 1322 हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर में 6338 चिकित्सकों के रिक्त पदों को शीघ्र भरा जाएगा। बीजेपी के विधायक अरुण शंकर प्रसाद के अल्पसूचित प्रश्न के उत्तर में उन्होंने कहा कि वर्तमान में बिहार में 331 स्वास्थ्य उपकेंद्र, 893 अतिरिक्त प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र और 98 शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र कुल 1322 हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर विकसित किए गए हैं। इन सेंटर पर 12 प्रकार की बीमारियों की सामान्य स्वास्थ्य सेवाएं प्रदान की जाती हैं। इनमें से प्रथम सात प्रकार की सेवाएं अभी क्रियाशील हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर पर उपलब्ध हैं। शेष पांच प्रकार की सेवाएं भी चरणबद्ध तरीके से इन केंद्रों पर उपलब्ध करा दी जाएंगी।

स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि बिहार तकनीकी सेवा आयोग की अनुशंसा के आलोक में वर्ष 2020 के जुलाई से सितंबर तक कुल 929 विशेषज्ञ चिकित्सा पदाधिकारी और 3186 सामान्य चिकित्सा पदाधिकारी की नियुक्ति कर विभिन्न स्वास्थ्य संस्थानों में पदस्थापित किया गया है। वर्तमान में विशेषज्ञ चिकित्सा अधिकारी के 3706 और सामान्य चिकित्सा पदाधिकारी के 2632 अथार्त कुल 6338 रिक्त पदों पर नियुक्ति के लिए अधियाचना सामान्य प्रशासन विभाग के माध्यम से बिहार तकनीकी सेवा आयोग को भेजी जा चुकी है। नामों की अनुशंसा आते ही उन्हें पदस्थापित कर दिया जाएगा।

मंत्री पांडे ने कहा कि राज्य में स्टाफ नर्स ग्रेड ए के रिक्त पदों की संख्या 9130 पर चयन के लिए अधियाचन भेजी गई है और इसके विरूद्ध बिहार तकनीकी सेवा आयोग द्वारा अभी तक 5097 नर्स ग्रेड ए की अनुशंसा प्राप्त हुई है। इनका पदस्थापन विभिन्न स्वास्थ्य संस्थानों में किया गया है। शेष रिक्त पदों पर नियुक्ति के लिए नियमानुसार आवश्यक कार्रवाई की जाएगी।

कोई टिप्पणी नहीं

बिहार खबर वेबसाइट पर कॉमेंट करने के लिए धन्यवाद।