Breaking News

छपरा- कोविड-19 को लेकर अलर्ट मोड में स्वास्थ्य विभाग, माइक्रो कंटेन्मेंट जोन में हर व्यक्तियों की होगी आरटीपीसीआर जांच



मास्क नहीं पहनने वालों के खिलाफ अभियान चलाने का निर्देश

होमगार्ड के जवानों का टीकाकरण शीघ्र पूर्ण करने का निर्देश

24 घंटे और हर दिन काम करेगा कोरोना कंट्रोल रूम


छपरा,24 फरवरी । वैश्विक महामारी कोरोना संक्रमण के मामले जिले में भले हीं कम हो गये हैं। लेकिन अन्य राज्यों में बढ़ते संक्रमण को देखते हुए स्वास्थ्य विभाग अलर्ट मोड पर आ गया है। इसको लेकर मुख्य सचिव की अध्यक्षता में विडियो कंफ्रेंसिंग की गयी। जिसमें स्वामस्य्िव  विभाग के प्रधान सचिव प्रत्यय अमृत ने सभी जिलाधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि यदि किसी भी क्षेत्र में कोरोना संक्रमण का कोई मामला सामने आता है तो उस इलाके के 500 मीटर इलाके को सील करते हुए वहां रहने वाले प्रत्येक व्यक्ति की आरटीपीसीआर जांच कराई जाए। इधर, दूसरी ओर फ्रंटलाइन वर्कर को वैक्सीन की पहली डोज देने की मियाद 28 फरवरी तय कर दी गई है। फ्रंट-लाइन वर्कर्स का वैक्सीनेशन किया जा रहा है। अगले कुछ दिनों में होमगार्ड के जवानों को वैक्सीन दी जाएगी । ताकि यदि बिहार में संक्रमण बढ़ता है तो होमगार्ड जवान मुस्तैदी के साथ अपनी ड्यूटी करें।



संक्रमण के केस आने पर होगी कांटेक्ट ट्रेसिंग:


प्रधान सचिव ने निर्देश दिए कि यदि किसी भी इलाके में कोरोना संक्रमण का नया मामला सामने आता है तो उसकी कांटेक्ट ट्रेसिंग कराएं| साथ ही उस इलाके के पांच सौ मीटर के दायरे को तत्काल सील करते हुए वहां रहने वाले प्रत्येक नागरिक की आरटीपीसीआर जांच भी कराएं और इससे मुख्यालय को भी अवगत कराएं।


24 घंटे और हर दिन काम करेगा कोरोना कंट्रोल रूम:

कोरोना संक्रमण को लेकर जिले में 24 घंटे कंट्रोल रूम को संचालित किया जा रहा है। यहां फोन करने वाले कोरोना आशंकितों को जांच, उस दौरान बरती जाने वाली सावधानियों, पॉजिटिव होने पर दवाएं, होम आइसोलेशन की स्थिति में बरती जाने वालीं एहतियात, दवाएं और जरूरत पड़ने पर भर्ती कराने के लिए एंबुलेंस तक मुहैया कराई जाती है।


होम आइसोलेशन में रहने वालों का जाना जाएगा हाल:


कंट्रोल रूम की ओर से होम आइसोलेशन में रहने वालों से बीच-बीच में बातचीत कर उनका हालचाल भी जाना जाएगा। अब जो भी नए कोरोना संक्रमित आएंगे, उनके घर के आसपास के सीमित क्षेत्र को कंटेनमेंट जोन बनाया जाएगा। ये कंटेनमेंट जोन इस तरह बनाए जाएंगे कि पहले की तरह बड़ी आबादी किसी एक के संक्रमित होने से परेशान नहीं हो।



मास्क नहीं पहनने पर वाहन होगा  जब्त:

मास्क नहीं पहनने वालों के खिलाफ सख्ती बरतने का निर्देश दिया गया है। जिसके बाद जिला प्रशासन की टीम सक्रिय हो गयी है। चौक-चौराहों पर मास्क की चेकिंग की जा रही है। मास्क नहीं पहनने वाले व्यक्तियों से जुर्माने की वसूली की जा रही है तथा हमेशा मास्क का उपयोग करने के लिए प्रेरित किया जा रहा है। बिना मास्क पहनकर वाहन चलाने पर वाहन जब्त भी किया जा सकता है।

कोई टिप्पणी नहीं

बिहार खबर वेबसाइट पर कॉमेंट करने के लिए धन्यवाद।