Breaking News

मार्च में शुरू होगा कोविड-19 टीकाकरण का तीसरा चरण, तैयारियों को लेकर प्रखंड अधिकारियों का हुआ उन्मुखीकरण




- तीसरे चरण में 50 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों और गंभीर रोगग्रसित लोगों को दिया जाएगा टीका 

- स्वास्थ्य कर्मियों को मिल रहा है टीका का दूसरा डोज, फ्रंटलाइन कर्मियों के दूसरे डोज की होगी शुरुआत

- अन्य नियमित टीकाकरण सुदृढ़ीकरण के लिए भी प्रखंड अधिकारियों को दिया गया निर्देश 


पूर्णिया, 25 फरवरी। 


जिले में कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए सरकार द्वारा चलाए जा रहे कोविड-19 टीकाकरण अभियान के तीसरे चरण की शुरुआत मार्च में होगी। इसकी तैयारियां को लेकर सदर अस्पताल के जिला प्रतिरक्षण सभागार में प्रखंड अधिकारियों का एक दिवसीय उन्मुखीकरण कार्यशाला का आयोजन किया गया|  जिसमें सभी प्रखंडों के बीसीएम व बीएचएम शामिल रहे। बता दें कि तीसरे चरण में उन सभी आम लोगों को कोविड-19 का टीका लगाया जाएगा जिनकी उम्र 50 वर्ष से ज्यादा है या वे किसी गंभीर बीमारियों से ग्रसित हैं। कार्यशाला में सिविल सर्जन डॉ. उमेश शर्मा ने सभी प्रखंड अधिकारियों को कोविड-19 टीकाकरण के साथ-साथ अन्य सभी प्रकार के टीकाकरण में सुदृढ़ीकरण लाने संबंधी निर्देश दिए। कार्यशाला में डीपीएम ब्रजेश कुमार सिंह, डीसीएम संजय दिनकर, डीआईओ सुभाष चंद्र पासवान, यूनीसेफ प्रमंडलीय समन्यवक शिवशेखर आनंद, मकेश्वर रावत, मनोज राव, डब्लूएचओ जोनल कोऑर्डिनेटर डॉ. दिलीप, यूएनडीपी भीसीसीएम सोमेश सिंह, पाथ जिला समन्वयक पंकज कुमार, सभी प्रखंड के बीएचएम, बीसीएम आदि उपस्थित रहे।


मार्च में होगी टीकाकरण के तीसरे चरण की शुरुआत :

कोविड-19 टीकाकरण के तीसरे चरण की शुरुआत मार्च में  होगी । इसमें 50 वर्ष से अधिक उम्र के सभी नागरिकों के साथ ही 50 वर्ष से कम उम्र के गंभीर बीमारियों से ग्रसित लोगों को कोविड-19 का टीका  लगाया जाएगा। इसके लिए सभी प्रखंड अधिकारियों को जरूरी तैयारियां करने का निर्देश दिया गया है। कार्यशाला में सिविल सर्जन डॉ. उमेश शर्मा ने कहा कि आमलोगों की सुविधा का ध्यान रखते हुए तीसरे चरण में लोगों के नजदीकी मतदान केंद्र को टीकाकरण स्थल के रूप में चयनित  किया जाएगा। टीकाकरण स्थल पर पूर्व की भांति वेटिंग रूम, टीका केंद्र के साथ ही टीकाकरण के बाद लोगों को 30 मिनट तक विशेष निगरानी में रखने के लिए निरीक्षण केंद्र की व्यवस्था रहेगी। सिविल सर्जन ने सभी प्रखंड अधिकारी को प्रखंड विकास पदाधिकारी से समन्वय  स्थापित करते हुए तीसरे चरण के लिए अपने क्षेत्र के लाभार्थियों की जानकारी उपलब्ध करने का निर्देश दिया है। 


01 मार्च से फ्रंट लाइन कर्मियों को मिलेगा कोविड-19 टीका का दूसरा डोज :

जिले में 01 मार्च से दूसरे चरण में शामिल फ्रंट लाइन कर्मियों को कोविड-19 टीकाकरण के दूसरे डोज की शुरुआत की जाएगी। 01 मार्च से पूर्व सभी फ्रंट लाइन कर्मियों को टीका  का पहला डोज उपलब्ध कराने का निर्देश सिविल सर्जन द्वारा दिया गया है। इसके अलावा प्रथम चरण में शामिल सभी सरकारी व निजी स्वास्थ्य कर्मियों को भी तय समय तक दूसरे डोज पूरा करते हुए इसकी सूचना पोर्टल पर दर्ज करने का निर्देश दिया गया है। ज्ञात हो कि जिले में प्रथम चरण में  11 हजार 640 सरकारी व निजी स्वास्थ्य कर्मियों और दूसरे चरण में  3119 फ्रंट लाइन कर्मियों को कोविड-19 टीका लगाया जा रहा है। 


अन्य नियमित टीकाकरण सुदृढ़ीकरण के लिए भी प्रखंड अधिकारियों को दिया गया निर्देश :

एक दिवसीय कार्यशाला में प्रखंड अधिकारियों को जिले में चलाये  जा रहे  नियमित टीकाकरण को भी सुदृढ करने हेतु निर्देश दिया गया। इसके लिए जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी डॉ. सुभाष चंद्र पासवान द्वारा सभी अधिकारियों को यूनिसेफ के सहयोग से चलाये जा रहे सीबीआई-आरआई के मॉड्यूल 04, 05, 06 एवं 07 की जानकारी दी गई। इसके अलावा सभी अधिकारियों को नियमित टीकाकरण की सभी जानकारी आंकड़ों के साथ जिला कार्यालय में उपलब्ध कराने का निर्देश दिया गया।

कोई टिप्पणी नहीं

बिहार खबर वेबसाइट पर कॉमेंट करने के लिए धन्यवाद।