Breaking News

छपरा के लाल ने एक बार फ़िर किया कामाल । आपन छपरा के बनी लॉगो के साथ 1400. किलोमीटर बुलेट से राइडिंग यात्रा की ।




 गड़खा।छपरा के लाल चंदन ने अरुनाचल प्रदेश ईटानगर से राइडिंग यात्रा पर निकले नार्थ लखीमपुर (आसाम) होते हुए( पशिघाट) (आलो) से (मेंचुक्खा) 1400Km ये यात्रा 6 दिनों की रही । पहुंचे चाइना के बीच मेंचुक्खा बॉर्डर पर राष्ट्रीय तिरंगा के साथ छपरा के लोगो की बनी झंडा भी फहराया।गड़खा के मोतीराजपुर निवासी विजय साह का पुत्र चंदन कुमार साह ने   , जहां पर उन्होंने अपनी टीम के साथ छपरा के लोगों को भी लहराया।चन्दन ने कहा कि सारण वासियों को देश-विदेश में जहां भी जाएं अपने देश के साथ अपने आपन छपरा का नाम रोशन करें। कभी भी अपनी मातृभूमि को भूलनी नहीं चाहिए। अपनी संस्कृति सभ्यता को हमेशा याद रखना चाहिए। चंदन पिछले 24 वर्षों से अरुणाचल प्रदेश के ईटानगर में रह रहे हैं।पर्व त्यौहार के समय  अपने गांव जरूर आते हैं।चन्दन के इस कार्य की सोशल साइट्स पर काफी प्रशंसा हो रही है। चन्दन पिछले साल 2019 में    भारत चाईना बुमला बोर्डर 15200 पर भी राष्ट्रीय तीरंगा के साथ आपन छपरा का बना लोगो को भी रहरा चूके हैं।

कोई टिप्पणी नहीं

बिहार खबर वेबसाइट पर कॉमेंट करने के लिए धन्यवाद।