Breaking News

कोविड-19 से बचाव के प्रति जागरूकता फैलाने में मीडिया का योगदान महत्वपूर्ण

 



• अखबारों के माध्यम से जन-जन तक पहुंच रहा है करुणा से बचाव का संदेश


• मीडिया व विभाग के बीच समन्वय स्थापित करने में सिफार का सहयोग का सराहनीय


• कोविड-19 के प्रति सोच में जन समुदाय में आया बड़ा बदलाव


छपरा। वैश्विक महामारी कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए जिला प्रशासन व स्वास्थ्य विभाग की ओर से व्यापक स्तर पर जागरूकता अभियान चलाया जा रहा है। जिले में कोरोनावायरस के संक्रमण का प्रसार धीरे धीरे कम हो रहा है। इसके साथ ही संक्रमित व्यक्तियों के स्वस्थ होने की संख्या में लगातार वृद्धि हो रही है।  होम आइसोलेशन  में रहकर अधिकतर लोग कोरोना संक्रमण से उबर रहे हैं। इसका एक मात्र यही कारण है कि लोगों में इसके प्रति जागरूकता बढ़ी है अब लोग अपने व्यवहारों में काफी परिवर्तन ला चुके हैं। इस बदलाव का सूत्रधार सिर्फ जिला प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग नहीं है बल्कि इसमें मीडिया का भी अहम योगदान शामिल है। यह पहली बार ऐसा हुआ है कि मीडिया ने किसी एक विषय पर लगातार 6 महीने से अपने हर खबरों में कोरोना संक्रमण से बचाव के प्रति लोगों को जागरूक करने के उद्देश्य से बचाव का संदेश देने का काम किया है। अखबारों के माध्यम से जन समुदाय तक कोरोना संक्रमण से बचाव के प्रति संदेशों को पहुंचाने का काम किया जा रहा है और इससे लोगों के व्यवहारों में काफी बदलाव भी आया है। मास्क का प्रयोग, शारीरिक दूरी का पालन एवं स्वच्छता के प्रति आमजनों का नजरिया पहले की तुलना में बदल चुकी है। लोग इसका हर संभव पालन करते दिख रहे है। 


अखबारों के माध्यम से मिल रहा है संदेश:


कोरोनावायरस से बचाव को लेकर जिला प्रशासन तो अभियान चला ही रहा है, लेकिन इसमें जागरूकता लाने में सबसे बड़ा योगदान मीडिया का है। जिसने लगातार अपने खबरों के माध्यम से आम जनों को जागरूक करने का काम किया है। मैं प्रतिदिन अखबार पढ़ता हूँ  किसी भी पन्ने को पलट कर आप देखेंगे तो हर खबर में कहीं ना कहीं कोरोना से बचाव के प्रति संदेश रहता है और इसका परिणाम है कि लोगों में काफी बदलाव आया है।  


राजा कुमार,  रिविलगंज सारण

-------------------------



पहले की तुलना में अब अधिक जागरूक हुए लोग:


 मैं अपने क्षेत्र में करीब 6 माह से लगातार लोगों को कोरोना के संक्रमण से बचाव के प्रति जागरूक कर रही हूं। पहले तो लोगों को यह भी नहीं मालूम था कि सैनिटाइजर क्या होता है? शारीरिक दूरी का मतलब क्या है? लेकिन अब यह परिदृश्य बदल चुका है। लोग इसके प्रति जागरूक हो चुके हैं और स्वास्थ विभाग के साथ-साथ इसमें मीडिया का भी अहम योगदान है। जिसने अपने खबरों के माध्यम से लोगों को जागरुक किया है। लोग खबर पढ़कर कभी-कभी हमें उस बात को ही बताते हैं जो हमें नहीं पता होता है। 


बिभा देवी, आशा कार्यकर्ता, दरियापुर सारण


------------------------------

स्वास्थ्य विभाग और मीडिया के बीच समन्वय स्थापित करने में सिफार का अहम योगदान:


जिले में स्वास्थ्य विभाग तो अपना काम कर ही रहा है । कोरोनावायरस के संक्रमण से बचाव को लेकर स्वास्थ्य विभाग पूरी तरह से मुस्तैद है और धरातल पर इस कार्य को पूरी ईमानदारी और निष्ठा से किया जा रहा है। लेकिन इस कार्य को मीडिया के माध्यम से आम जनों तक पहुंचाने में सेंटर फॉर एडवोकेसी एंड रिसर्च के द्वारा काफी सहयोग मिल रहा है। सेंटर फॉर एडवोकेसी एंड रिसर्च के माध्यम से ही लगातार कोरोनावायरस संकट के बीच लोगों में सकारात्मक संदेश देने का काम किया गया है, जो काफी सराहनीय है। इसी का देन है कि मीडिया व विभाग के बीच एक अच्छा समन्वय स्थापित हुआ है। 


डॉ माधवेश्वर झा, सिविल सर्जन, सारण

कोई टिप्पणी नहीं

बिहार खबर वेबसाइट पर कॉमेंट करने के लिए धन्यवाद।