Breaking News

*सीपीआई एवं किसान सभा ने किसान विरोधी बिल के विरोध में मार्च निकाल, पीएम मोदी का पुतला फूंका

 प्रकाशनार्थ।


*पूंजीपतियों को फायदा पहुंचाने वाली किसान विरोधी बिल जल्द वापस ले सरकार: रामबाबू सिंह*


आज दिनांक 25 सितंबर 2020 को भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी एवं किसान सभा की सारण जिला इकाई ने भारत के संसद द्वारा पारित किसान विरोधी बिल के विरोध में शहर में सड़कों पर उतर विरोध मार्च निकाला और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का पूतला फूंक आक्रोश प्रकट किया।

विरोध मार्च भाकपा जिला मुख्यालय मंजर रिज़वी भवन सलेमपुर से निकाला गया जिसका नेतृत्व भाकपा जिला सचिव रामबाबू सिंह एवं जिला किसान सभा के संयोजक हरिवल्लभ सिंह एवं उप संयोजक भरत राय ने किया।

प्रदर्शनकारी किसान कार्यकर्ता जुलूस की शक्ल में भारत सरकार द्वारा पारित कराए किसान विरोधी बिल को रद्द करने, स्वामीनाथ आयोग के मुताबिक फसल के समर्थन मूल्य लागू करने, खेती को कार्पोरेट घरानों से मुक्त करने, अनिवार्य वस्तु अधिनियम 1925 को जारी रखने, किसानों को कर्ज मुक्त करने की मांगों से संबंधित नारे लगाते हुए शहर के विभिन्न चौक चौराहों पर प्रर्दशन किया तत्पश्चात नगरपालिका चौक पर पहुंच कर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का पुतला दहन किया।

प्रदर्शनकारियों को भाकपा जिला सचिव रामबाबू सिंह, चुल्हन प्रसाद सिंह, किसान नेता हरिबल्लभ सिंह, भरत राय, वरीय अधिवक्ता सुरेंद्रनाथ त्रिपाठी, अवधेश राय, छात्र नेता राहुल कुमार यादव, अमित नयन, परमात्मा प्रसाद गुप्ता, नागेन्द्र राय, शिवजी दास, सुरेश वर्मा, सुग्रीव गुप्ता, युवा नेता दिलीप वर्मा, अन्य ने संबोधित किया एवं संसद द्वारा पारित किसान बिल को रद्द करने की मांग करते हुए सरकार की किसान विरोधी नीतियों की आलोचना की।


रामबाबू सिंह 

'जिला सचिव' सीपीआई सारण।

कोई टिप्पणी नहीं

बिहार खबर वेबसाइट पर कॉमेंट करने के लिए धन्यवाद।