Breaking News

लालू यादव की समधि जदयू की होने वाली वर्चुअल रैली का प्रचार किये।


दरियापुर/सारण 
राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के समधी व सारण जिले के परसा से वर्तमान राजद विधायक चंद्रिका राय ने लालू परिवार से रिश्ता तोड़ने के साथ ही साथ अब अपना सियासी रास्ता भी बदल लिया है।लोकसभा चुनाव के समय डैमेज कंट्रोल के तहत लालू परिवार की परंपरागत सारण सीट से चंद्रिका राय को राजद ने अपना उम्मीदवार बनाया था। चंद्रिका राय की उम्मीदवारी का लालू परिवार में ही विरोध हो गया था उनके दामाद तेज प्रताप यादव खुलेआम उनके खिलाफ खड़े हो गए थे राजद के तरफ से पहले इस सीट पर सलीम परवेज का टिकट कंफर्म था। चंद्रिका राय परसा से कई बार विधायक रहे हैं लालू राबड़ी सरकार में मंत्री रहे हैं 2015 के जदयू राजद गठबंधन सरकार में भी मंत्री थे इनकी पुत्री ऐश्वर्या राय का विवाह राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के बड़े पुत्र तेजप्रताप यादव के साथ हुआ है दोनों परिवारों के बीच शादी के बाद से ही खटास चल रही थी तलाक का मामला न्यायालय में लंबित है चंद्रिका राय की पुत्री ऐश्वर्या राय ने लालू प्रसाद यादव परिवार के खिलाफ मारपीट व घरेलू हिंसा का मामला दर्ज कराया है। परिवारिक रिश्ता खटाई में पड़ने के साथ ही साथ सियासी रिश्ता भी टूट गया है। हालांकि लोकसभा चुनाव हारने के बाद से ही चंद्रिका राय राजद से खुद को अलग थलग करने में लगे हुए थे। चंद्रिका राय ने सार्वजनिक रूप से भी कई बार बयान भी दिया कि सारण सीट पर राजद के लोगों ने ही उन्हें चुनाव हरा दिया। परिवारिक और सियासी हलचल के बीच परसा से जदयू के लगातार दो बार विधायक रहे हैं छोटे लाल राय पिछले ही हफ्ते राजद में शामिल हो गए हालांकि चंद्रिका राय ने सार्वजनिक रूप से अभी तक जदयू की सदस्यता ग्रहण नही की है पर आज उन्होंने अपने फेसबुक पोस्ट के माध्यम से अपने क्षेत्र में जदयू की होने वाली वर्चुअल रैली का प्रचार किया है अपने कार्यकर्ताओं से जदयू के बेवसाईट पर जाकर खुद को कनेक्ट करने को कहा है चंद्रिका राय कोरोना से ग्रसित है।पर क्षेत्र में उनके समर्थक जदयू के प्रचार में लगे हुए हैं। चर्चा यह भी है कि उनकी पुत्री और लालू प्रसाद यादव की बहू ऐश्वर्या राय अपने पति तेज प्रताप यादव के खिलाफ विधानसभा चुनाव में ताल ठोंक सकती हैं प्रचारक के तौर पर भी लालू परिवार पर निजी हमले करने के लिए चंद्रिका राय व ऐश्वर्या राय का इस्तेमाल जदयू कर सकता है. फिलहाल अगर मगर के बीच चंद्रिका राय के द्वारा जदयू के प्रचार का फेसबुक पोस्ट डालने के बाद सारण की सियासत की गर्माहट एकाएक बढ़ गई है।

कोई टिप्पणी नहीं

बिहार खबर वेबसाइट पर कॉमेंट करने के लिए धन्यवाद।